Subscribe Now!

BRD मेडिकल कालेज में लगी आग को SP-BSP ने बताया साजिश, की उच्चस्तरीय जांच की मांग

You Are Here
BRD मेडिकल कालेज में लगी आग को SP-BSP ने बताया साजिश, की उच्चस्तरीय जांच की मांगBRD मेडिकल कालेज में लगी आग को SP-BSP ने बताया साजिश, की उच्चस्तरीय जांच की मांगBRD मेडिकल कालेज में लगी आग को SP-BSP ने बताया साजिश, की उच्चस्तरीय जांच की मांग

गोरखपुर: बसपा ने गोरखपुर में स्थित BRD मेडिकल कालेज के कार्यालय में लगी आग को साजिश बताते हुए कहा कि इसकी निष्पक्ष जांच की जानी चाहिए। बसपा विधायक विनय शंकर तिवारी ने कहा कि बाबा राघवदास मेडिकल कालेज गोरखपुर में पिछले दिनों कथित रुप से अॉक्सीजन आपूर्ति बंद हो जाने के कारण बच्चों की हुई मृत्यु के बाद राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई थी। मेडिकल कालेज के प्राचार्य कक्ष में लगी आग को उसी से जोड़कर देखा जा रहा है।
PunjabKesari
तिवारी का कहना था कि अग्निकांड की जांच होनी चाहिए क्योंकि यह घटना पहले के प्रकरण से जुड़ी हो सकती है। तिवारी ने कहा कि सिर्फ फाइलों में आग लगना किसी सुनियोजित साजिश की ओर इशारा कर रहा है। इस अग्निकांड में कौन-कौन सी फाइलें जली हैं इसकी तत्काल सूची तैयार होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इन फाइलों की डुप्लीकेट फाइल कैसे तैयार होगी, इस पर जवाब देना होगा।
PunjabKesari
तिवारी ने कहा कि इस बात की तस्दीक करनी होगी कि कहीं आगजनी में ऐसे दस्तावेज या फाइलें तो नहीं जली हैं जिसका सम्बन्ध मेडिकल कालेज में पिछले दिनों हुई मासूम बच्चों की मौत से हो। उन्होंने कहा कि इस मामले में उच्च स्तरीय जांच कराकर जो भी दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। इस बीच, समाजवादी पार्टी (सपा) के जिलाध्यक्ष प्रहलाद यादव ने मेडिकल कालेज में आग लगने के पीछे साजिश की आशंका जताई और कहा कि हो सकता है पिछले दिनों अॉक्सीजन की कमी कारण हुई मासूम बच्चों की मौत से सम्बंधित फाइलें भी इसमें जल गई हों। किसी को बचाने के लिए आग लगाई जा सकती है।
PunjabKesari
उन्होंने कहा कि आग लगने की सूचना सम्बन्धित अधिकारियों को समय पर दे दी गई थी लेकिन मौके पर लोग देर से पहुंचे। गोरखपुर नगर क्षेत्र से भाजपा विधायक डा. राधा मोहन दास अग्रवाल ने इस मामले में उच्च अधिकारियों से बातचीत की। उन्होने मंडलायुक्त अनिल कुमार से अधजली फाइलों के संरक्षण के लिए किसी जिम्मेदार अधिकारी को भेजने के लिए कहा है। उन्होंने प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन से भी अनुरोध किया है कि अधजली फाइलों को सूचीबद्ध किया जाए।



UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन