​देवरानी को बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ी महिला, 50,000 रू का मिलेगा मुआवजा

  • ​देवरानी को बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ी महिला, 50,000 रू का मिलेगा मुआवजा
You Are Here
​देवरानी को बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ी महिला, 50,000 रू का मिलेगा मुआवजा​देवरानी को बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ी महिला, 50,000 रू का मिलेगा मुआवजा​देवरानी को बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ी महिला, 50,000 रू का मिलेगा मुआवजा

देहरादूनः यूं तो देवरानी और जेठानी के आपसी रिश्ते बहुत मधुर नहीं माने जाते, लेकिन उत्तराखंड के अल्मोडा जिले में एक महिला अपनी देवरानी को तेंदुए के पंजे से छुडाने के लिए उससे भिड़ गई।

हालांकि, तेंदुए और महिला के बीच हुए भीषण संघर्ष के बाद मौके से भागने से पहले तेंदुए ने अपने पंजों की खरोंचों से दोनों महिलाओं को गंभीर रूप से घायल कर दिया। अलमोड़ा के प्रभागीय वन अधिकारी आरएस प्रजापति ने बताया कि घटना जिले के हवालबाग क्षेत्र के पिलखा गांव में कल सुबह हुई जब दोनों महिलाएं घास काटने गई थीं।

वहां घात लगाए बैठे तेंदुए ने अचानक घास काट रही 24 वर्षीया पूजा पर पीछे से हमला कर दिया। पूजा के चिल्लाने की आवाज सुनकर पास ही घास काट रही उसकी 35 वर्षीया जेठानी उमा देवी अपनी दरांती लेकर तेंदुए से भिड़ गयी। कुछ देर तक चले भीषण संघर्ष के बाद तेंदुआ दोनों महिलाओं को छोडकर भाग गया।

दोनों घायल ​महिलाओं को जिला अस्पताल मे भर्ती कराया गया है जहां उनकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। वन अधिकारी ने बताया कि घायल महिलाओं में से प्रत्येक को वन विभाग की ओर से शीघ्र ही 50,000 रू का मुआवजा दिया जाएगा ।  



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!