नोटबन्दी को चुनावी मुद्दा बना रही है भाजपा, होर्डिंग्स-बैनर लगने शुरु

  • नोटबन्दी को चुनावी मुद्दा बना रही है भाजपा, होर्डिंग्स-बैनर लगने शुरु
You Are Here
नोटबन्दी को चुनावी मुद्दा बना रही है भाजपा, होर्डिंग्स-बैनर लगने शुरुनोटबन्दी को चुनावी मुद्दा बना रही है भाजपा, होर्डिंग्स-बैनर लगने शुरुनोटबन्दी को चुनावी मुद्दा बना रही है भाजपा, होर्डिंग्स-बैनर लगने शुरु

लखनऊ: नोटबन्दी को लेकर पूरे देश में चल रहे विरोध और समर्थन के बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) इसे उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मुद्दा बनाने जा रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नोटबन्दी के फैसले के समर्थन में भाजपा ने जगह-जगह होर्डिंग्स, बैनर लगाने शुरु कर दिये हैं। नोटबन्दी के निर्णय के बाद देश के कई हिस्सों में हुए उपचुनाव से भी पार्टी उत्साहित है, इसलिए भाजपा इसे चुनावी मुद्दा बनाने की ओर तेजी से बढ़ रही है। भाजपा के प्रदेश कार्यालय और उसके आस पास लगाये गये होर्डिंग्स और बैनर में ‘काले धन पर किया प्रहार, बन्द किया नोट पांच सौ और एक हजार।’ ‘संकल्प रोकने का भ्रष्टाचार, भ्रष्टाचारियों को होगा बंटाधार।’ जैसे दोहे लिखे हैं। 

इन होर्डिंग्स और बैनरों पर प्रधानमंत्री मोदी का चित्र और पार्टी का चुनाव चिन्ह कमल बने हुए हैं। पार्टी के झंडे के रंग में लगे होर्डिंग्स और बैनरों में मोदी को नायक के रूप में दर्शाया जा रहा है। उन्हीं बैनरों और होर्डिंग्स में नीचे ‘न गुण्डाराज न भ्रष्टाचार, इस बार होगी भाजपा सरकार’ दोहा भी लिखा है।

पार्टी उपाध्यक्ष और पार्टी मामलों के मोदी के गृह प्रदेश गुजरात के प्रभारी डॉ. दिनेश शर्मा का इस बाबत कहना है कि नोटबन्दी के फैसले को जनता का व्यापक समर्थन मिल रहा है, इसलिए भी कई दलों में व्याकुलता बढ़ी है। डॉ. शर्मा ने कहा कि नोटबन्दी के निर्णय के बाद पश्चिम बंगाल, अरुणाचंल प्रदेश, असम और मध्य प्रदेश में उपचुनाव हुए हैं। अरुणाचंल प्रदेश और बंगाल में भाजपा को समर्थन नहीं मिलता था, लेकिन अरुणाचंल प्रदेश के विधानसभा की एक सीट पर हुए उपचुनाव में भाजपा जीती और पश्चिम बंगाल में हुए उपचुनाव में दूसरे स्थान पर रही। पश्चिम बंगाल में भी पार्टी को जनता का व्यापक समर्थन मिल रहा है। 

उन्होंने कहा कि हाल ही में असम विधानसभा के हुए आम चुनाव में भाजपा को दो-चार सीट भी निकालना मुश्किल होता था, लेकिन वहां पार्टी की सरकार बनी और नोटबन्दी के बाद एक सीट पर हुआ उपचुनाव भी भाजपा के पक्ष में गया। मध्य प्रदेश में उपचुनाव वाली दोनो सीटें भाजपा जीत गयी। डॉ. शर्मा ने कहा कि उपचुनाव के नतीजे बताते हैं कि जनता नोटबन्दी के फैसले के पक्ष में है। जनता भ्रष्टाचार को हर हाल में खत्म करना चाहती है। प्रधानमंत्री ने कई बार कहा है कि उनके निर्णय से ईमानदारों को डरने की जरुरत नहीं है। लेकिन भ्रष्ट और बेइमानों के खिलाफ कार्रवाई करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जायेगी। 

UP Political News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें  

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You