नक्सलियाें से हुई मुठभेड में अमरोहा का लाल शहीद, गांव में पसरा मातम

You Are Here
नक्सलियाें से हुई मुठभेड में अमरोहा का लाल शहीद, गांव में पसरा मातमनक्सलियाें से हुई मुठभेड में अमरोहा का लाल शहीद, गांव में पसरा मातमनक्सलियाें से हुई मुठभेड में अमरोहा का लाल शहीद, गांव में पसरा मातम

अमरोहा(नदीम अहमद): छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में नक्सलियाें से हुई मुठभेड में आई.टी.बी.पी. के जवान अरशद अली के शहीद होने की खबर के बाद गांव में मातम पसरा हुआ है। शहीद के घर पर इलाके के विधायक के साथ-साथ लोगों की भारी भीड़ भी सांत्वना देने पहुंची हुई है।

शहीदी की खबर के बाद गांव में पसरा मातम
बता दें अमरोहा जनपद के सैदनगली थाना इलाके के भदौरा गांव का निवासी अरशद सन 2012 में आईटीबीपी में भर्ती हुआ था। जिसकी ड्यूटी आजकल छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जनपद में ठीक ठाक तरिके से चल रही थी। डेढ़ महीने बाद ही शहीद अरशद की शादी भी होनी थी।

डेढ़ महीने बाद होनी थी शादी
लेकिन बीती शाम 5 बजे अरशद के बड़े भाई राशिद पर फोन आया कि आपके भाई को नक्सलियों से मुठभेड़ में गोली लगी है। वहीं अरशद नक्सली हमले में शहीद हो चुका है यह सुनकर परिवार में कोहराम मच गया।

BJP विधायक ने दिया हर संभव मदद का दिलासा
इस समाचार के बाद से ही सांत्वना देने के लिए विधायक महेंद्र सिंह खड़गवंशी भी शहीद अरशद के गांव भदोरा पहुंचे है। जिन्होंने परिवार को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया तथा कहा कि इस दुख की घड़ी में हम परिवार के साथ हैं जो भी मुझसे मदद होगी मैं सरकार से वह मदद दिलवाऊंगा।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!