नगर निकायों की अब होगी जनता के प्रति जवाबदेही: योगी

  • नगर निकायों की अब होगी जनता के प्रति जवाबदेही: योगी
You Are Here
नगर निकायों की अब होगी जनता के प्रति जवाबदेही: योगीनगर निकायों की अब होगी जनता के प्रति जवाबदेही: योगीनगर निकायों की अब होगी जनता के प्रति जवाबदेही: योगी

बलरामपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नगर निकायों को जनता के प्रति और अधिक जवाबदेह बनाने की वकालत करते हुये कहा कि इससे नगरों में खुशहाली आयेगी। 

योगी ने छोटा परेड ग्राउंड में एक जनसभा को संबोधित करते हुये कहा कि नगर निकायों की छोटी सरकार को अब जनता के प्रति और अधिक जवाबदेह बनाना होगा। जनता के प्रति जवाब देही होने से नगर निकाय और अधिक काम कर सकेंगे जिससे नगरों में विकास होगा। नगरों का विकास होने से इसका लाभ गांवों के किसानों को भी मिलेगा। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने भ्रष्टाचार, माफिया, अवैध खनन को बढ़ावा दिया। जनता को लूटकर उनका जीवन नारकीय बना दिया। विपक्ष ने हमेशा जाति और मकाहब में बाँटने की राजनीति की। प्रदेश का विकास ठप पड़ गया था। 

योगी ने कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों का पिछली सरकारों के समय का गन्ना बकाये का करीब पचीस हजार करोड़ रूपये का भुगतान कराया। इसके अतिरिक्त नये सत्र का एक हजार करोड़ भी भुगतान अब तक हो चुका है। उन्होंने आगाह किया कि आगामी दिसंबर में भू माफियाओं के खिलाफ बड़ा अभियान चलाकर सरकार अवैध कजों को मुक्त करायेगी। युवाओं का प्रदेश से पलायन रोकने के लिये मेरिट के आधार पर बिना भेदभाव के प्रदेश सरकार करीब दस लाख नौकरियां देगी। सरकार ने बिजली, पानी, सड़क, जनकल्याणकारी योजनाओं तथा अन्य विकास कार्यों का बिना जाति भेदभाव के सबका साथ सबका विकास पर कार्य किया।

योगी ने अपील की कि प्रदेश के विकास के लिये भाजपा प्रत्याशियों को जितायें। उन्होंने कहा कि ऐतिहासिक शक्तिपीठ देवी पाटन मन्दिर को शीघ्र ही पर्यटन स्थल घोषित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि आठ महीने में 86 लाख किसानों का कर्जा माफ किया गया। प्रदेश में व्यापक पैमाने पर निवेश करने के लिए योजना बनाई जा रही है। सड़कों को अतिक्रमण मुक्त कराकर चौड़ा किया जाएगा। डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन का काम कराया जाएगा। फेरी नीति लागू कर फुटपाथ को मुक्त कराया जायेगा। कुटीर उद्योगों को पुनर्जीवित कराने के लिए नीति अमल में लाई जाएगी। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले आठ महीने के कार्यकाल में सरकार प्रदेश के 20 लाख ऐसे परिवारों को आजादी के बाद पहली बार विद्युत कनेक्शन देने जा रही है। सरकार ने थोड़े से समय में गरीब परिवारों को 11 लाख आवास दिये हैं। वर्ष 2022 तक 24 लाख गरीब परिवारों को छत मुहैया कराई जाएगी। योगी ने कहा कि प्रदेश सरकार ने बाबा भीमराव अंबेडकर की जयंती पर सभी जिला मुख्यालयों को 24 घंटे बिजली देने के वायदे को पूरा किया है। समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) शासन में लोगों के साथ भेदभाव करके विकास किया जाता था लेकिन भाजपा शासन में ऐसा नहीं होगा। विकास का लाभ सबको मिलेगा। प्रदेश के 75 जिलों में बगैर भेदभाव के 24 घंटे बिजली दी जा रही है। 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!