KGMU के ट्रामा सेंटर पहुंचे CM योगी, हालातों का जायजा लेकर दिए जांच के आदेश

You Are Here
KGMU के ट्रामा सेंटर पहुंचे CM योगी, हालातों का जायजा लेकर दिए जांच के आदेशKGMU के ट्रामा सेंटर पहुंचे CM योगी, हालातों का जायजा लेकर दिए जांच के आदेशKGMU के ट्रामा सेंटर पहुंचे CM योगी, हालातों का जायजा लेकर दिए जांच के आदेश

लखनऊः लखनऊ के किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के ट्रामा सेंटर में कल रात लगी भीषण आग में 5 मरीजों की मौत से दुखी प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज यहां उपस्थित है। जिसके चलते ट्रामा सेंटर में आगमन पर रोक लगा दी गई है और वहां सुरक्षा व्यवस्था काफी कड़ी कर दी गई है। मुख्यमंत्री के दौरे के कारण ट्रामा सेंटर में अब किसी का भी प्रवेश बंद कर दिया गया है। उसको छावनी में बदल दिया गया है। मीडिया के प्रवेश पर भी बैन लगा दिया गया है।

योगी ने की मरीजों से मुलाकात, हालातों का लिया जायजा
दरअसल हालातों का जायजा लेने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार को ट्राॅमा सेंटर पहुंचे। जहां उन्होंने भर्ती मरीजों से मुलाकात कर हालचाल पूछा। वहीं आग कैसे लगी इसकी जानकारी भी सीएम योगी केजीएमयू और पुलिस प्रशासन से बातचीत कर ले रहे है। मौके पर डीजीपी सुलखान सिंह समेत कई वरिष्ट अधिकारी मौजूद है।

3 दिन में मांगी रिपोर्ट
इसके साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने राहत और बचाव कार्य युद्धस्तर पर चलाने के निर्देश दिए हैं। सीएम योगी ने आग लगने की घटना का तत्काल संज्ञान लेते हुए मंडलायुक्त को जांच कर 3 दिन में रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए हैं।

मरीजों का इलाज फिर से शुरु
इस मामले में केजीएमयू के सीएमएस एसएन शंखवार ने बताया कि इलाज के अभाव में किसी मरीज की मौत नहीं हुई है। उन्होंने बताया कि ट्राॅमा सेंटर में अति संवेदनशील मरीज आते हैं। फिलहाल टाॅमा सेंटर पर मरीजों का इलाज सुचारु रूप से शुरू हो गया हैं।

भीषण आग में 5 मरीजों की हुई थी मौत
दरअसल ट्रामा सेंटर में कल रात आग लगने के कारण मची अफरातफरी में 5 लोगों ने दम तोड़ दिया था। जिनमें 2 बच्चे भी शामिल हैं। जिस पर प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा अनीता जैन भटनागर ने बताया कि आग लगने के कारण ट्रामा सेंटर से मरीजों को शहर में 8 जगह पर शिफ्ट किया गया। इनमें डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्तपाल के साथ सिविल अस्पताल व बलरामपुर अस्तपाल भी हैं। उन्होंने कहा कि अभी वहां पर क्या कमियां रहीं इसको नहीं बताया जा सकता। जहां पर आग लगी वहां पर बच्चे भी भर्ती थे। अब हालात काबू में हैं। तीन मरीजों को गंभीर हालत में डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनका उपचार चल रहा है।
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!