सही समय पर होगी ‘समाजवादी सेक्युलर मोर्चे’ के गठन की घोषणा: शिवपाल

  • सही समय पर होगी ‘समाजवादी सेक्युलर मोर्चे’ के गठन की घोषणा: शिवपाल
You Are Here
सही समय पर होगी ‘समाजवादी सेक्युलर मोर्चे’ के गठन की घोषणा: शिवपालसही समय पर होगी ‘समाजवादी सेक्युलर मोर्चे’ के गठन की घोषणा: शिवपालसही समय पर होगी ‘समाजवादी सेक्युलर मोर्चे’ के गठन की घोषणा: शिवपाल

लखनऊ: अखिलेश यादव की अगुवाई वाली समाजवादी पार्टी के खिलाफ अपनी मुहिम को नया मोड़ देते हुए ‘समाजवादी सेक्युलर मोर्चे’ के गठन का फैसला करने वाले वरिष्ठ नेता शिवपाल सिंह यादव ने आज कहा कि मोर्चे का खाका तैयार किया जा रहा है और सही समय पर इसके गठन की औपचारिक घोषणा की जाएगी। 

शिवपाल ने कि बताया समाजवादी सेक्युलर मोर्चे की रूपरेखा तैयारी की जा रही है और सही समय पर इसके गठन की औपचारिक घोषणा कर दी जाएगी। यह पूछे जाने पर कि क्या यह मोर्चा समाजवादी पार्टी का हिस्सा रहेगा या फिर स्वतंत्र संगठन की तरह काम करेगा, शिवपाल ने कोई जवाब देने से मना कर दिया। हालांकि मोर्चे से जुड़े सूत्रों का कहना है कि शीघ्र गठित होने वाला यह संगठन सपा का ही हिस्सा रहेगा। 

एक नेता ने कहा, ‘‘समाजवादी सेक्युलर मोर्चा समान विचारधारा वाले राजनीतिक दलों का संगठन है। मोर्चा बनाने के विचार को मान्यता मिल गयी है, क्योंकि समान विचारों वाले एेसे अनेक संगठन हैं, जो साप्रदायिक ताकतों से लड़ाई में हमारी मदद करने को तैयार हैं।’’ उन्होंने कहा कि यह मोर्चा भविष्य में छोटी पार्टियों के लिए राजनीतिक मंच साबित होगा। वरिष्ठ समाजवादी नेता रघुनन्दन सिंह ‘काका’ ने मोर्चे की प्रासंगिकता के बारे में कहा, ‘‘यह मोर्चा उत्तर प्रदेश के सभी समाजवादी नेताआें को एक छत्र तले लााएगा, ताकि साप्रदायिक ताकतों को कड़ी चुनौती दी जा सके।’’ 

उन्होंने कहा कि यह मोर्चा समाजवाद के प्रणेता राम मनोहर लोहिया के साथ-साथ आचार्य नरेन्द्र देव, जय प्रकाश नारायण, चरण सिंह तथा अन्य प्रख्यात समाजवादियों के विचारों तथा सिद्धान्तों को आत्मसात करके काम करेगा। समाजवादी सेक्युलर मोर्चे के सूत्रों ने बताया कि वरिष्ठ सपा नेता भगवती सिंह तथा पूर्व केन्द्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा मोर्चे के वरिष्ठ नेताआें के संपर्क में हैं। यहां तक कि सपा के आनुषांगिक संगठनों के वरिष्ठ पदाधिकारी भी मोर्चे में जगह बनाने की जुगत लगा रहे हैं। 

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से पद छोड़कर मुलायम सिंह यादव को सौंपने की लगातार मांग कर रहे वरिष्ठ नेता शिवपाल सिंह यादव ने गत पांच मई को ‘सामाजिक न्याय’ के लिये एक ‘सेक्युलर मोर्चे’ के गठन की घोषणा करते हुए कहा था कि सपा संस्थापक मुलायम उसके अध्यक्ष होंगे। शिवपाल ने इटावा में अपने बहनोई अजंट सिंह के घर पर मुलायम के साथ बैठक के बाद संवाददाताआें से बातचीत में कहा था, ‘‘सामाजिक न्याय के लिये सेक्युलर मोर्चा बनेगा और नेताजी :मुलायम सिंह यादव: उसके राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे।’’ अपने राजनीतिक प्र्रतिद्वंद्वी चाचा शिवपाल द्वारा ‘सेक्युलर मोर्चा’ गठित किये जाने के सवाल पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा था कि अगर सेक्युलर मोर्चा बनता है तो अच्छी बात है। 

मालूम हो कि सपा विधायक और पार्टी के वरिष्ठ नेता शिवपाल ने पिछले दिनों कहा था कि अखिलेश अपने वादे के मुताबिक मुलायम को पार्टी अध्यक्ष पद सौंपें। अगर अखिलेश एेसा नहीं करते हैं तो वह अलग ‘सेक्युलर मोर्चा’ बनाएंगे। गत एक जनवरी को पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन में सपा अध्यक्ष चुने गये अखिलेश ने हाल में सपन्न विधानसभा चुनाव से एेन पहले कहा था कि मुलायम सिर्फ तीन महीने के लिये उन्हें सारे अधिकार सौंप दें। चुनाव के बाद वह सारे अधिकार उन्हें लौटा देंगे। चुनाव में सपा को 403 में से महज 47 सीटें मिलने के बाद पार्टी के अंदर अखिलेश के खिलाफ आवाज उठने लगी थी। शिवपाल ने अनेक बार कहा कि अखिलेश को अब अपना वादा पूरा करना चाहिये। हालांकि अखिलेश इस सवाल पर कहते हैं कि पहले इस बारे में पार्टी का संविधान पढ़ लिया जाए, उसके बाद कोई बात की जाए। 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You