निकाय चुनाव में बढ़त के लिये योगी ने जानबूझ कर की अयोध्या से प्रचार की शुरूआत: आजम

  • निकाय चुनाव में बढ़त के लिये योगी ने जानबूझ कर की अयोध्या से प्रचार की शुरूआत: आजम
You Are Here
निकाय चुनाव में बढ़त के लिये योगी ने जानबूझ कर की अयोध्या से प्रचार की शुरूआत: आजमनिकाय चुनाव में बढ़त के लिये योगी ने जानबूझ कर की अयोध्या से प्रचार की शुरूआत: आजमनिकाय चुनाव में बढ़त के लिये योगी ने जानबूझ कर की अयोध्या से प्रचार की शुरूआत: आजम

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) के मुस्लिम चेहरे आजम खां ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर अयोध्या विवाद को राजनीतिक स्वार्थ के लिये जानबूझ कर उछालने का आरोप लगाते हुये कहा कि स्थानीय निकाय चुनाव में बढ़त हासिल करने के लिये भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का यह चिरपरिचित हथकंडा था।  

निकाय चुनाव के लिये प्रचार अभियान के आखिरी दिन कल शाम एक जनसभा में आजम खां ने कहा, ‘ऐसा पहली बार है जब प्रदेश का कोई मुख्यमंत्री निकाय चुनाव के प्रचार अभियान में सक्रिय है। इस चुनाव प्रचार की शुरूआत के लिये जानबूझ कर अयोध्या का चयन किया गया जहां पर विवादित राम जन्मभूमि है और यह मामला उच्चतम न्यायालय में लंबित है। वह प्रचार की शुरूआत ऐसी जगह से भी कर सकते थे जहां एकता और प्रेम की बयार बहती हो।’

सपा नेता ने कहा कि चुनावी बढत हासिल करने के लिये जानबूझ कर सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश की गयी है। ऐसा पहली बार नही है जब आजम खां ने मुख्यमंत्री आदित्यनाथ को निशाने पर लिया हो। इससे पहले इसी साल मार्च में उन्होने योगी को नमाज पढऩे की सलाह दी थी। बाद में आजम खां ने सफाई दी थी कि सूर्य नमस्कार और नमाज की मुद्राओं में कोई फर्क नही है। 

आजम खां ने कहा, ‘योगी आदित्यनाथ को अच्छी तरह पता था कि वह गोरखपुर से विधानसभा चुनाव नही जीत सकते, इसलिये उन्होने विधान परिषद का सदस्य बनने में भलाई समझी। नगरीय निकाय चुनाव में सपा की जीत का दावा करते हुये आजम खां ने कहा कि सपा प्रत्याशी पूरे प्रदेश में परचम लहरायेंगे। यहां तक गोरखपुर के उस वार्ड में भी सपा का झंडा बुलंद होगा जहां गोरक्षपीठ मंदिर है।’ 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!