Subscribe Now!

अखिल गढ़वाल सभा के स्थापना दिवस पर पहुंचे CM, कहा- राज्य की संस्कृति सबसे प्राचीन

You Are Here
अखिल गढ़वाल सभा के स्थापना दिवस पर पहुंचे CM, कहा- राज्य की संस्कृति सबसे प्राचीनअखिल गढ़वाल सभा के स्थापना दिवस पर पहुंचे CM, कहा- राज्य की संस्कृति सबसे प्राचीनअखिल गढ़वाल सभा के स्थापना दिवस पर पहुंचे CM, कहा- राज्य की संस्कृति सबसे प्राचीन

देहरादून(कुलदीप रावत): उत्तराखंड में अखिल गढ़वाल सभा के 68 वर्ष पूरे होने पर शनिवार को देहरादून के नगर निगम में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य की संस्कृति सबसे प्राचीनतम है। जो लोग संस्कृति के संरक्षण के लिए काम कर रहे हैं, उन्हें सहयोग करना चाहिए। 
PunjabKesari
सभा को बधाई देने पहुंचे सीएम 
मुख्यमंत्री ने कहा कि गढ़वाल सभा समय-समय पर पहाड़ों से विस्थापित परिवारों की हर संभव सहायता के लिए सदैव तत्पर रहती है। इसके लिए गढ़वाल सभा बधाई की पात्र है। सीएम ने कहा कि राज्य सरकार संस्कृति के संरक्षण और संवर्धन के लिए कृत संकल्पित है। नगर निगम के प्रेक्षागृह में आयोजित गढ़वाल सभा के स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री ने सांस्कृतिक क्षेत्र में काम करने वाले लोगों को सम्मानित भी किया। 
PunjabKesari
कार्यरत लोगों को किया सम्मानित 
अखिल गढ़वाल सभा पहाड़ी संस्कृति को आगे बढ़ाने के लिए और विलुप्त हो रही कला को उभारने का कार्य करता है। इस अवसर पर सीएम ने कहा कि मैं आज अखिल गढ़वाल सभा को बधाई देने पहुंचा हूं। अखिल गढ़वाल सभा ने 68 वर्ष का कार्यकाल बिना किसी विवाद के व्यतीत किया है। 




अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन