'बारात लेकर न आना वर्ना लाशें बिछा दूंगा', और फिर...

You Are Here
'बारात लेकर न आना वर्ना लाशें बिछा दूंगा', और फिर...'बारात लेकर न आना वर्ना लाशें बिछा दूंगा', और फिर...'बारात लेकर न आना वर्ना लाशें बिछा दूंगा', और फिर...

अलीगढ़ः शादी के समय जिस घर में खुशियों की शुरूआत हो जानी चाहिए, वहां परेशानियों का भूचाल सा आ गया। ताजा मामला अलीगढ़ का है, जहां गांव के ही गैर समुदाय के युवकों ने होने वाले दूल्हों को धमकी दी कि जिस लड़की से तुम शादी करने वाले हो उनसे हम कोर्ट मैरिज व निकाह दोनों कर चुके हैं। भूल से भी बारात लेकर मत आना नहीं तो लाशें बिछा देंगे। वहीं इस धमकी से दोनों लड़कियों की शादी टूट गई।

फोन पर मिली दूल्हे को धमकी
जानकारी के मुताबिक मामला जिले के हरदुआगंज के गांव ऊंटागर का है। यहां की रहने वाली 2 बहनों में से एक की शादी दिल्ली तो दूसरी की गंगीरी क्षेत्र के गांव में तय हुई थी। शादी की तिथि 29 नवंबर तय हुई थी। परिवार वाले शादी की तैयारियों में जुटे हुए थे, लेकिन गांव के ही एक युवक ने लड़की के ससुराल फोन कर दिया और दोनों बहनों की शादी टूट गई।

धमकी से टूटी दोनों की शादी
लड़कियों के पिता के अनुसार 2 दिन पहले उसके होने वाले दामाद के पास अंजान नंबर 9760684497 से फोन पहुंचा। फोन करने वाले ने कहा जिन लड़कियों से तुम शादी करना चाहते हो, उनसे हम कोर्ट मैरिज व निकाह कर चुके हैं। अब वे दोनों हमारी हैं। भूल से भी बरात लेकर मत आना नहीं तो इतनी गोलियां चलेंगी कि लाशें बिछ जाएंगी।

पिता ने दी थाने में तहरीर
धमकी भरे फोन से भयभीत गंगीरी के लड़के वालों ने शादी तोड़ दी। किसी तरह ये बात दिल्ली वाले परिवार को मालूम हुई तो उन्होंने भी रिश्ता तोड़ दिया। 2 बेटियों की शादी टूटने के बाद परेशान पिता थाने पहुंचा और मोबाइल नंबर पुलिस को देकर सारी बात बताई।

आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज
वहीं जब पुलिस ने सर्विलांस के जरिए पता किया तो वो मोबाइल नंबर गांव के ही गैर समुदाय के युवक सद्दाम का निकला। लड़कियों के पिता ने थाने में 4 युवक शमसाद, सद्दाम, फुरकान व परवेज के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया है। फिलहाल पुलिस ने सद्दाम को गिरफ्तार कर बाकि 3 फरार युवकों की तलाश शुरु कर दी है।


 



UP SAMACHAR की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!