इस वजह से युवक को लौटानी पड़ी बारात, पहली पत्नी का साथ निभाने की खाई कसमें

  • इस वजह से युवक को लौटानी पड़ी बारात, पहली पत्नी का साथ निभाने की खाई कसमें
You Are Here
इस वजह से युवक को लौटानी पड़ी बारात, पहली पत्नी का साथ निभाने की खाई कसमेंइस वजह से युवक को लौटानी पड़ी बारात, पहली पत्नी का साथ निभाने की खाई कसमेंइस वजह से युवक को लौटानी पड़ी बारात, पहली पत्नी का साथ निभाने की खाई कसमें

सहारनपुर: यूपी के सहारनपुर जिले में महिला सशक्तिकरण के लिए चल रहे पुलिस अभियान का लाभ एक मुस्लिम वैवाहिक महिला को मिला, जब पुलिस के हस्तक्षेप से दूसरी शादी रचाने जा रहे उसके शौहर को न सिर्फ बारात लौटानी पड़ी बल्कि विवाह की हसरत छोड़ पत्नी का ताउम्र साथ निभाने की कसम खानी पड़ी।

दरअसल, शामली जिले के अजीजपुर गांव निवासी इनसार की पत्नी नसरीन से अनबन रहती थी जिसके चलते नसरीन पिछले 1 साल से बच्चों के साथ कोतवाली थाना भवन के अम्बेहटा गांव स्थित मायके में रह रही थी। कल रात इनसार गाजे बाजे के साथ दूसरी शादी रचाने बड़गांव के लूनाबड़ी गांव पहुंचा जिसकी भनक नसरीन को लग गई और शादी रूकवाने के लिए उसने पुलिस की शरण ली।

पीड़ित विवाहिता ने पुलिस को बताया कि उसका पति लूनाबड़ी में कामिल के यहां बारात लेकर आया है और उसकी बेटी शबाना के साथ निकाह करने वाला है। महिला की बात सुनने के बाद पुलिस हरकत में आई और बिना तलाक दिए दूसरा निकाह करने वाले इनसार को हिरासत में ले लिया। इस घटनाक्रम को देखते हुए बाराती गांव से भाग गए और कामिल ने भी अपनी बेटी शबाना का निकाह करने से इनकार कर दिया।

पुलिस के समझाने-बुझाने और कानूनी कार्रवाई का डर दिखाने पर इनसार अपनी पहली पत्नी और 2 बच्चों को साथ लेकर अपने गांव अजीजपुर चला गया। पीड़ित महिला ने बड़गांव पुलिस का आभार जताया कि उसका परिवार फिर से खुशहाल हो गया।



UP HINDI NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!