योगी सरकार की 7वीं कैबिनेट मीटिंग आज, शीरा नीति के प्रस्ताव पर लग सकती है मुहर

  • योगी सरकार की 7वीं कैबिनेट मीटिंग आज, शीरा नीति के प्रस्ताव पर लग सकती है मुहर
You Are Here
योगी सरकार की 7वीं कैबिनेट मीटिंग आज, शीरा नीति के प्रस्ताव पर लग सकती है मुहरयोगी सरकार की 7वीं कैबिनेट मीटिंग आज, शीरा नीति के प्रस्ताव पर लग सकती है मुहरयोगी सरकार की 7वीं कैबिनेट मीटिंग आज, शीरा नीति के प्रस्ताव पर लग सकती है मुहर

लखनऊः सूबे की योगी सरकार की 7वीं कैबिनेट मीटिंग आज होने जा रही है। शाम 5.30 बजे से लोकभवन में होने वाली इस मीटिंग में कई अहम प्रस्तावों पर चर्चा हो सकती है। सूत्रों की मानें तो शीरा नीति के प्रस्ताव पर मुहर लग सकती है। इसके अलावा डॉक्टरों की रिटायरमेंट एज 65 किए जाने और यूपी के हर हॉस्प‍िटल में शाम को ओपीडी चलाए जाने के प्रस्ताव पर मुहर लग सकती है।

पिछली कैबिनेट मीटिंग में हुए थे ये फैसले
इससे पहले 9 मई को हुई कैबिनेट मीटिंग में कई अहम फैसले लिए गए थे। सरकार के स्पोक्सपर्सन सिद्धार्थनाथ सिंह और श्रीकांत शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया था कि हमारी धार्मिक नगरी और धार्मिक शहरों को अहम सुविधाएं दी जाएंगी। इसके तहत फैजाबाद और अयोध्या को मिलाकर एक नगर निगम बनेगा।

रोजगार और बिजनेस को बढ़ाने के लिए अयोध्या को रेल और एयर कनेक्ट‍िविटी से जोड़ेंगे। इसी तरह मथुरा-वृंदावन को भी डेवलप किया जाएगा। उसे भी नगर निगम बनाया जाएगा। यमुना की सफाई के उचित प्रबंध किए जाएंगे।

फुटपाथ विक्रेता के लिए 2004 के नियम के तहत उन्हें रेगुलर किया जाएगा। हमने यूपी पथ विक्रेता अधिनियम 2017 को लागू किया है, जिसकी खुद की कमेटी होगी।नगर निगम के कमिश्नर इसके अध्यक्ष होंगे। एक तिहाई महिला और अनुसूचित जाति जनजाति को प्राथमिकता देंगे। पार्षद और पथ फुटकर विक्रेता के लोग भी मेंबर होंगे। इसके अलावा स्टाम्प पंजीयन डिपार्टमेंट में परिवर्तन होगा। वहीं, डीआईजी और आईजी लेवल के अफसरों की कार्य क्षमता में परिवर्तन किया जाएगा।


 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!