योगी सरकार की अब अखिलेश के 'साइकिल ट्रैक' पर नजर

  • योगी सरकार की अब अखिलेश के 'साइकिल ट्रैक' पर नजर
You Are Here
योगी सरकार की अब अखिलेश के 'साइकिल ट्रैक' पर नजरयोगी सरकार की अब अखिलेश के 'साइकिल ट्रैक' पर नजरयोगी सरकार की अब अखिलेश के 'साइकिल ट्रैक' पर नजर

लखनऊ: योगी आदित्यनाथ सरकार की समीक्षा के दायरे में समाजवादी स्मार्टफोन योजना और समाजवादी पेंशन स्कीम आने के बाद अब पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के महत्वाकांक्षी ‘साइकिल ट्रैक’ पर भी नई सरकार की नजर है।

शहरी विकास राज्य मंत्री गिरीश यादव ने कहा कि नई सरकार साइकिल ट्रैक का व्यवहार्यता अध्ययन कराने की योजना बना रही है ताकि उसकी उपयोगिता का आकलन किया जा सके। ‘साइकिल’ समाजवादी पार्टी का चुनाव निशान है, जिसने 5 साल उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव के नेतृत्व में सत्ता संभाली।

सपा के राजनीतिक विरोधी साइकिल ट्रैक के इर्द गिर्द लाल-हरे रंग की सीमा रेखा बनाने पर भी एेतराज कर चुके हैं क्योंकि वे इसे सपा के प्रचार का साधन मानते हैं। सपा का झंडा लाल हरे रंग का है। यादव ने कहा कि साइकिल ट्रैक की व्यवहार्यता का अध्ययन कराया जा रहा है। राज्य सरकार को इसकी रिपोर्ट मिलने के बाद आगे कार्रवाई की जाएगी।

समाजवादी स्मार्टफोन योजना भी अखिलेश का पसंदीदा प्रोजेक्ट थी। उसे भी योगी सरकार संभवत: बंद कर देगी। अपर मुख्य सचिव (आईटी एवं इलेक्ट्रानिक्स) संजीव सरन कह चुके हैं कि उत्तर प्रदेश सरकार ने योजना को जारी रखने के बारे में कोई फैसला नहीं किया है। उन्होंने हालांकि और कोई ब्यौरा नहीं दिया।  इस बीच सरकारी सूत्रों ने बताया कि योजना से राजकोष पर भारी बोझ पड़ेगा। स्कीम के लिए 1.4 करोड़ से अधिक लोग, विशेषकर युवा पहले ही ऑनलाइन पंजीकरण करा चुके हैं।

समाजवादी स्मार्टफोन योजना का पंजीकरण पिछले साल 10 अक्तूबर को शुरू हुआ था।  उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने हाल ही में समाजवादी पेंशन योजना को बंद कर लाभार्थियों की जांच का आदेश दिया है। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता के मुताबिक, अधिकारियों से कहा गया है कि लाभार्थियों की जांच महीने भर में कर ली जाए। एक सुझाव ये भी है कि ‘समाजवादी’ शब्द हटाकर इसका नाम ‘मुख्यमंत्री पेंशन योजना’ किया जाए। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You