लावारिस बच्ची के लिए महिलाओं में छीड़ी जंग, चाइल्ड केयर सेंटर बना अखाड़ा

  • लावारिस बच्ची के लिए महिलाओं में छीड़ी जंग, चाइल्ड केयर सेंटर बना अखाड़ा
You Are Here
लावारिस बच्ची के लिए महिलाओं में छीड़ी जंग, चाइल्ड केयर सेंटर बना अखाड़ालावारिस बच्ची के लिए महिलाओं में छीड़ी जंग, चाइल्ड केयर सेंटर बना अखाड़ालावारिस बच्ची के लिए महिलाओं में छीड़ी जंग, चाइल्ड केयर सेंटर बना अखाड़ा

अमेठीः अमेठी में गजब की तस्वीर देखने को मिली। जब सड़क किनारे कचरे के ढेर में पड़ी इस लावारिस बच्ची को गोद लेने के लिए दर्जन भर से ज़्यादा महिलाएं अस्पताल पहुंच गई, लेकिन इनमें भी जब बेटी को गोद लेने की जंग शुरु हो गई तो प्रशासन ने उसे चाइल्ड केयर सेंटर लखनऊ भेज दिया।

दरअसल मामला अमेठी के किठावर रोड का है, जहां पर नवजात बच्ची को कचरे के ढेर में छोड़ कर मां चली गई और उस बच्ची का रो-रो कर बुरा हाल था। अचानक जब लोगों के कानों में बच्चे की रोने की आवाज पहुंची तो लोग इकट्ठा हो गए।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने नवजात बच्ची को अमेठी सीएचसी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डयूटी पर तैनात स्टाफ नर्स ने बच्ची को नहलाया धुलाया और बच्ची की देख-रेख शुरू कर दी.उधर देखते ही देखते बच्ची के मिलने की खबर जंगल में आग की तरह फैल गई, और उस बच्ची को लेने के लिए 15 से 20 महिला आगे आई। लेकिन आपसी झगड़ें के कारण आज फिर वो बच्ची बिन मां की हो गई।

औरतों के झगड़ें से परेशान एसडीएम अमेठी प्रियंका सिंह ने लखनऊ से चाइल्ड केयर टीम को बुला कर बच्ची को उनके हवाले करवा दिया। अब बच्ची जिसको भी चाहिए वो लखनऊ चाइल्ड केयर जा के सारी फॉर्मेलटीज पूरी कर बच्ची को गोद ले सकता है।



UP HINDI NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन