आखिर क्यों सब्जी का ठेला चलाने लगा ये पुलिस अफसर, जानिए पूरा मामला

You Are Here
आखिर क्यों सब्जी का ठेला चलाने लगा ये पुलिस अफसर, जानिए पूरा मामलाआखिर क्यों सब्जी का ठेला चलाने लगा ये पुलिस अफसर, जानिए पूरा मामलाआखिर क्यों सब्जी का ठेला चलाने लगा ये पुलिस अफसर, जानिए पूरा मामला

वाराणसीः बीजेपी सरकार को महंगाई के मुद्दे पर घेरने के लिए कांग्रेसियों ने बीएचयू से सब्जियों का ठेला लेकर पीएम के संसदीय ऑफि‍स तक मार्च निकाला, लेकिन पुलिस के तेवर देख कांग्रेसियों की हवा निकल गई। कांग्रेसी बैनर पोस्टर छोड़ 10 मिनट में ही वहां से भाग निकले। इस कारण प्रदर्शनकार आने जाने वाले राहगीरों के नजर में  मजाक का पात्र बनकर रह गए।

मौके पर मौजूद बीएचयू स्टूडेंट सलोनी ने बताया कि प्रोटेस्ट की क्षमता न हो तो नहीं करना चाहिए। फायदा क्या आप मैदान छोड़कर चले गए। बिजनेसमैन रोहित ने बताया कि प्रोटेस्ट को लेकर कांग्रेस का कोई प्लान नहीं था। मीडिया के लोग उनकी संख्या से ज्यादा थे।

वहीं बिहार के विधायक और युवा कांग्रेस प्रभारी यूपी आनद शंकर सिंह और प्रदेश अध्यक्ष युवा कांग्रेस के नीरज त्रिपाठी भी शामिल थे। उन्होंने कहा, ये सरकार जब भी घिरती है तो विरोध करने वालों को पुलिस, जांच एजेंसियों से घेरने की कोशिश करती है। हम शांति से प्रोटेस्ट करना चाहते थे, लेकिन पुलिसवालों ने भगा दिया।

कांग्रेसी नेता विनय राय ने बताया, इस सरकार में सब्जियों की कीमत काफी बढ़ी है। 70 किलो टमाटर और 40 रुपए किलो प्याज बिक रहा है, जबकि हमारी सरकार में कीमत 9 रुपए और 10 रुपए किलो थी। सब्जी विक्रेता चंदमा ने बताया कि कांग्रेस सरकार में प्याज 200 रुपए किलो तक बिका है और टमाटर 100 के ऊपर। अभी तो सब्जी काफी सस्ती बिक रही है। 



UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!