Subscribe Now!

यूपीः स्कूलों मेें कई-कई दिन तक पढ़ाने नहीं आते शिक्षक, बच्चे भगवान भरोसे

You Are Here
यूपीः स्कूलों मेें कई-कई दिन तक पढ़ाने नहीं आते शिक्षक, बच्चे भगवान भरोसेयूपीः स्कूलों मेें कई-कई दिन तक पढ़ाने नहीं आते शिक्षक, बच्चे भगवान भरोसेयूपीः स्कूलों मेें कई-कई दिन तक पढ़ाने नहीं आते शिक्षक, बच्चे भगवान भरोसे

कौशांबीः प्रदेश सरकार भले ही प्राथमिक शिक्षा व्यवस्था को सुधारने के लिए करोड़ों रुपए पानी की तरह बहा रही है, लेकिन जमीनी हकीकत यह है कि परिषदीय स्कूलों की बदहाली दूर नहीं हो पा रही है। परिषदीय स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षक कई दिनोंं तक स्कूल नहीं पहुंचते। ऐसे में स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र चाहकर भी अच्छी शिक्षा नहीं हासिल कर पाते हैं। स्कूल की व्यवस्था भगवान भरोसे ही रहती है। 

सरकार की ओर से मिलने वाली सुविधाएं भी छात्र-छात्राओं को नहीं मिलती हैं। इस सच्चाई से खुद सिराथू से भाजपा विधायक शीतला प्रसाद पटेल रूबरू हुए। परिषदीय स्कूल की सच्चाई देख विधायक ने बेसिक शिक्षा अधिकारी से फोन पर दोषी अध्यापकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा है। शासन की ओर से परिषदीय स्कूलों मे संचालित योजनाओं की हकीकत जानने निकले सिराथू से भाजपा विधायक शीतला प्रसाद पटेल को कड़ा विकास खंड के अकबरपुर प्राथमिक स्कूल की जो बदहाल तस्वीर दिखी उसे देख वह दंग रह गए। 
PunjabKesari

अकबरपुर प्राथमिक स्कूल के सभी कमरों का मरम्मतीकरण कराया जा रहा है। स्कूल परिसर में चारो तरह ईट, गिट्टी व बालू बिखरी पड़ी है। हैंडपंप के पास थोड़ी से बची जमीन पर एक से 5 तक के सभी बच्चों की सामूहिक क्लास लगाई जाती है। एमडीएम शेड जो साल भर पहले तैयार हो जाना चाहिए उसमे अभी काम लगा है। शौचालय ऐसा जिसकी ओर कोई देखने की हिमाकत भी न करे। स्कूल की बदहाली देख विधायक सिराथू ने बेसिक शिक्षा अधिकारी को फोन लगाया और हकीकत से रूबरू करते हुये दोषियों के खिलाफ सख्त कारवाही करने को कहा।

एक ओर सरकार नारा दे रही है कि सब पढ़े सब बढ़े, लेकिन सरकार द्वारा संचालित परिषदीय स्कूलों की जो तस्वीरें सामने आ रही है उसे देखकर नहीं लगता कि सरकार की मंशा ऐसे मे पूरी हो सकेगी। 



अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन