DM की अनोखी पहल, अपराध से पहले कराए अंजाम के दर्शन

You Are Here
DM की अनोखी पहल, अपराध से पहले कराए अंजाम के दर्शनDM की अनोखी पहल, अपराध से पहले कराए अंजाम के दर्शनDM की अनोखी पहल, अपराध से पहले कराए अंजाम के दर्शन

फर्रुखाबाद (दिलीप कटियार): सरकारी मशीनरी की रग-रग में भ्रष्टाचार गुजर-बसर कर रहा है। हर सरकारी नौकर इसी फिराक में रहता है कि कहां से कुछ उपर की कमाई हो या लूट-खसोट का कोई मौका मिले। आम जनता को ये सरकारी नौकर ललचाई नजरों से देखते रहते हैं, जैसे शेर एक शिकार को देखता है और मौका मिलते ही झपट्टा मारता है।

जानकारी के अनुसार फर्रुखाबाद के जिलाधिकारी ने कर्मचारियों को भ्रष्टाचार से रोकने के लिए एक नायाब तरीका खोज निकाला है। उन्होंने जिले के सभी लेखपाल पंचायत सचिव टीचर और कोटेदार को सेन्ट्रल जेल में भ्रमण करवा कर कैदियों से मुलाकत करवाई। उन्होंने फर्रुखाबाद सेन्ट्रल जेल में 80 से अधिक विभिन्न धाराओं में सजा पाए सरकारी कर्मचारियो से भी मुलाकात कराई।

बता दें कि मंडी में लगभग 700 कर्मचारी और अधिकारी पहुंचे थे। जिलाधिकारी ने वहां पहुंचने पर यह जानने की कोशिश की कि जेल में बंदियों के साथ क्या होता, उनका जीवन कैसा होता है। भ्रष्टाचार कम करने के लिए जिलाधिकारी की ये पहल सराहनीय है लेकिन अब देखने वाली बात यह होगी कि जेल का भ्रमण करने पर कर्मचारियों में भ्रष्टाचार कम होता है या नहीं।



UP SAMACHAR की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!