समायोजन रद्द होने से दुखी शिक्षामित्र ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी ये बात

  • समायोजन रद्द होने से दुखी शिक्षामित्र ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी ये बात
You Are Here
समायोजन रद्द होने से दुखी शिक्षामित्र ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी ये बातसमायोजन रद्द होने से दुखी शिक्षामित्र ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी ये बातसमायोजन रद्द होने से दुखी शिक्षामित्र ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी ये बात

अमेठी: सुप्रीम कोर्ट से शिक्षामित्रों के समायोजन को रद्द किए जाने के फैसले के बाद जहां उन्होंने प्रदेशभर में आंदोलन की राह पकड़ ली है। वहीं इस फैंसले के बाद यूपी के अमेठी में एक शिक्षा मित्र की मौत का मामला सामने आया है। यहां एक दिव्यांग शिक्षा मित्र ने जहर खा लिया। इस हादसे के बाद से पूरे इलाके में कोहराम मचा हुआ है।

जानकारी के मुताबिक ग्राम सभा कटारी के प्राथामिक विद्यालय हरदासपुर में समायोजित दिव्यांग सहायक अध्यापक महेश कुमार ने देर रात जहर खा लिया। जिसके बाद उसने घर से दूर नाले में जाकर छलांग लगाकर जान दे दी। सुबह जब परिजनों ने उसे लापता पाया तो तलाश शुरु हुई और कुछ देर बाद हादसे की खबर मिली।

मृतक ने मरने से पहले एक सुसाइड नोट भी लिखा है। जिसमे लिखा था कि वो जिंदगी से तंग आकर ये बड़ा कदम उठा रहा है। उसके पास और कोई चारा नहीं है। मामले की सूचना पाकर डायल 100 की टीम मौके पर पहुंच गई। घंटों की मशक्कत के बाद उसका शव निकाला जा सका।

बता दें कि जामो ब्लाक के बीआरसी के अनुसार महेश की नियुक्ति वर्ष 2005 में शिक्षा मित्र के रूप में हुई थी और वर्ष 2014 में सहायक अध्यापक के रूप में उसका समायोजन हुआ था।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !