Subscribe Now!

मदरसों के बच्चों का वेश धारण कर मांग रहे थे भीख, लोगों ने किया पुलिस के हवाले

  • मदरसों के बच्चों का वेश धारण कर मांग रहे थे भीख, लोगों ने किया पुलिस के हवाले
You Are Here
मदरसों के बच्चों का वेश धारण कर मांग रहे थे भीख, लोगों ने किया पुलिस के हवालेमदरसों के बच्चों का वेश धारण कर मांग रहे थे भीख, लोगों ने किया पुलिस के हवालेमदरसों के बच्चों का वेश धारण कर मांग रहे थे भीख, लोगों ने किया पुलिस के हवाले

बिजनौर(हाशिम अहमद): बिजनौर के नजीबाबाद में मदरसे के बच्चों का वेश धारण किए 2 किशोरों को एक घर में घुसने के दौरान कुछ लोगों ने पकड़ लिया। जिसके बाद लोगों ने दोनों सदिंग्धों को पुलिस के हवाले कर दिया। अमाननगर कालोनी में दोपहर करीब 4 बजे मदरसे के बच्चों की वेशभूषा में कुर्ता पायजामा, टोपी व रूमाल लिए 2 किशोर कालोनी निवासी नासिर के मकान में घुस गए। मकान मालिक ने कुछ लोगों की मदद से दोनों किशोरों को पकड़ लिया।

जब पकड़े गए दोनों किशोरों से उनका नाम पता पूछा गया तो उन्होंने पहले अपना नाम सईद अंसारी व कलीम बताया। दोनों किशोरों ने भीख मांगने के लिए घर में जाने की बात बताई। बाद मे कालोनी के अन्य लोगों ने भी मौके पर पहुंचकर उक्त दोनों किशोरों के उनके घरों के दरवाजे पर भी पहुंचकर पैसे मांग कर ले जाने की जानकारी दी। जब कुछ लोगों ने पकड़े गए दोनों किशोरों पर शक जाहिर करते हुए उनसे कड़ी पूछताछ की तो दोनों ने अपने नाम दीपक व संदीप निवासी लखीमपुर खीरी बताया। दोनों ने बताया कि उनके परिवार में 10 लोग शामिल है तथा उनका परिवार नजीबाबाद में पुल के नीचे झोपड़ी डालकर रहता है।

वह भीख मांगने के लिए मदरसे के बच्चों जैसे वेश धारण कर मुस्लिम घरों मे जाते हैं। एक किशोर के पास से उसके पिता के आधार कार्ड की फोटो कापी व दूसरे के पास से लेमिनेशन हुआ मदरसे की तरह इमदाद के लिए लिखकर दिए जाने वाला पर्चा बदामद हुआ। पूछताछ में किशोरों ने साम्प्रदायिक भावना से जुड़ी कई अन्य बाते भी बताई। इस मामले को लेकर अमाननगर कालोनी में काफी देर तक हंगामा होता रहा। सूचना मिलने पर चौकी सराय के कांस्टेबल नीरज मलिक ने मौके पर पहुंचकर दोनों किशोरों को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। फिलहाल पुलिस दोनों किशोरों से पूछताछ कर रही है। 



अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन