सुप्रीम कोर्ट के आदेश काे ठेंगा, स्पीड पोस्ट से भेजा पत्नी को तलाक

  • सुप्रीम कोर्ट के आदेश काे ठेंगा, स्पीड पोस्ट से भेजा पत्नी को तलाक
You Are Here
सुप्रीम कोर्ट के आदेश काे ठेंगा, स्पीड पोस्ट से भेजा पत्नी को तलाकसुप्रीम कोर्ट के आदेश काे ठेंगा, स्पीड पोस्ट से भेजा पत्नी को तलाकसुप्रीम कोर्ट के आदेश काे ठेंगा, स्पीड पोस्ट से भेजा पत्नी को तलाक

अमरोहाः सुप्रीम कोर्ट के तीन तलाक को असंवैधानिक ठहराए जाने के बाद भी ये कुरीति लगातार जारी है। ताजा मामला अमरोहा का है, जहां एक महिला को उसके शौहर ने दहेज की मांग पूरी न होने पर तीन बार तलाक लिख कर स्पीड पोस्ट से खत भेज दिया।

जानकारी के मुताबिक मामला नजीबाबाद इलाके का है। जहां पीड़िता के पिता ने बताया कि बेटी मुमताज की शादी नजीबाबाद निवासी अकरम के साथ 2014 में की थी। शादी के बाद से ही मुमताज के पति और ससुरालवाले मुमताज से 1 लाख रुपए दहेज की मांग कर रहे थे।

साथ ही उन्होंने बताया कि मुमताज ससुरालवाले दहेज में एक लाख की मांग कर रहे थे। मना करने पर ससुराली लगभग 2 महीने से बेटी को मारते पीटते आ रहे हैं। इतने में उनका दिल नहीं भरा तो उसे घर से निकाल दिया। जिसके बाद से मुमताज मायके आकर रह रही है।

परेशान होकर मुमताज ने अपने दहेज लोभी पति अकरम और ससुरालियों के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज कर न्यायालय से इंसाफ की गुहार लगाई है। थाने में मुकदमे दर्ज होने की बात से बौखलाए पति और ससुरालियों ने मुमताज के घर आकर उससे और उसके पिता से जमकर मारपीट की और साथ ही केस वापस लेने को कहा। जब मुमताज ने मुकदमा वापस नहीं लिया तो उसके दहेज लोभी शौहर ने स्पीड पोस्ट से खत भेजकर तलाक दे दिया।


 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!