Subscribe Now!

कट्टरपंथी मानसिकता वाले मुस्लिम देश के लिए खतरा: रिजवी

You Are Here
कट्टरपंथी मानसिकता वाले मुस्लिम देश के लिए खतरा: रिजवीकट्टरपंथी मानसिकता वाले मुस्लिम देश के लिए खतरा: रिजवीकट्टरपंथी मानसिकता वाले मुस्लिम देश के लिए खतरा: रिजवी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के शिया सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष सैयद वसीम रिजवी ने कट्टरपंथी मानसिकता वाले मुसलमानों को देश के लिए खतरा बताया। उन्होंने उनके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। रिजवी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लिखे एक पत्र में कहा है कि ऐसे लोगों की गतिविधियों से लगता है कि देश के मुस्लिमों के लिए अहम फैसले पाकिस्तान एवं साऊदी अरब के आतंकवादी संगठन तय कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि विवादित अयोध्या राम जन्मभूमि मामले में शिया बोर्ड के फार्मूले से सहमति जताते हुए सलमान नदवी ने भी वही बातें कही है।

नदवी ने कहा है कि राम मंदिर राम जन्मभूमि पर ही बनना चाहिए और मुस्लिम वहां से दूर गैरविवादित स्थान पर अपनी मस्जिद बनाएं और इस विवाद का यही एक मात्र रास्ता है जो शिया बोर्ड पहले ही कह चुका है। शिया सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष ने पत्र में लिखा है कि नदवी ने जब आतंकी अबूबकर बगदादी को मुबारकबाद का खत लिखा था तब मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की, लेकिन अब उन्होंने राष्ट्र में अमन कायम रखने के लिए जायज बात कही है तो उसे लॉ बोर्ड से निकाल दिया गया है।

उन्होंने कहा कि भडकाऊ भाषण देकर माहौल खराब करने वाला जाकिर नायक भगोड़ा घोषित है, उसका बोर्ड के सदस्य के रुप में समर्थन किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि इससे लगता है, लॉ बोर्ड आतंकवादी संगठनों की शाखा बन गई है और उन्हीं की विचाराधारा पर चलकर देश का भाईचारा खराब करना चाहते हैं। रिजवी ने कहा कि लॉ बोर्ड द्वारा की गई कार्रवाई करने के बाद नदवी ने बयान में कहा है, कि लॉ बोर्ड आतंकवादियों के कब्जे में है और वहां किसी की बात नहीं सुनी जाती है।



UP POLITICAL NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन