मूसलाधार बारिश का कहरः बाढ़ के पानी में फंसे श्रद्धालु, पुलिस ने रेस्क्यू कर बचाई जान

  • मूसलाधार बारिश का कहरः बाढ़ के पानी में फंसे श्रद्धालु, पुलिस ने रेस्क्यू कर बचाई जान
You Are Here
मूसलाधार बारिश का कहरः बाढ़ के पानी में फंसे श्रद्धालु, पुलिस ने रेस्क्यू कर बचाई जानमूसलाधार बारिश का कहरः बाढ़ के पानी में फंसे श्रद्धालु, पुलिस ने रेस्क्यू कर बचाई जानमूसलाधार बारिश का कहरः बाढ़ के पानी में फंसे श्रद्धालु, पुलिस ने रेस्क्यू कर बचाई जान

सहारनपुरः उत्तर प्रदेश के जिले में शिवालिक पहाड़ियों पर इन दिनों नवरात्रे मेला चल रहा है और मां शाकम्भरी देवी के दर्शन करने के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। पिछले दो दिन से हो रही लगातार बारिश से काफी संख्या में श्रद्धालु पानी की धार के बीच फंस गए हैं। जिन्हें पुलिस के जवानों और प्रशासन ने बामुश्किल बाहर निकाला।

दरअसल माता वैष्णो देवी के बाद उत्तर भारत में सिद्धपीठ मां शाकम्भरी देवी का दूसरा स्थान है। यूं तो यहां हर दिन श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है लेकिन नवरात्रे के दिनों में भव्य मेले का आयोजन किया जाता है। देश के कई राज्यों से लाखों की संख्या में श्रद्धालु मां शाकम्भरी देवी के दर्शन करने आते हैं।


इस बार 2 दिनों से लगातार हो रही बारिश ने माता के दर्शनों में खलल डाल दिया। पहाड़ों में हुई बारिश का पानी मंदिर के सामने से गुजरने वाली नदी में अचानक पानी आने से अफरा-तफरी मच गई। बड़ी संख्या में श्रद्धालु पानी के तेज बहाव के बीच फंस गए। 

इस दौरान शाकुंभरी नदी में आई बाढ़ ​की​ सूचना मिलते ही एसडीएम व सीओ मौके पर​ पहुंच गए। दोनों अधिकारियों के नेतृत्व में पुलिस कर्मियों ने नदी के उस पर फंसी महिलाओं, बच्चों और अन्य श्रद्धालुओं को नदी पार करवाई। एक ओर जहां श्रद्धालु पुलिस प्रशासन की तारीफ करते नज़र आए। 


वहीं, दूसरी ओर जिला पंचायत के खिलाफ रोष दिखाई दिया। ​क्योंकि मेले में सुविधाओं की जिम्मेदारी जिला पंचायत की होती है। बहरहाल, समय रहते पुलिस और बचाव दल ने श्रदालुओं को पानी के तेज बहाव से निकाल लिया, लेकिन जिला पंचायत की लापरवाही के चलते किसी बड़े हादसा होने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता।



UP HINDI NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!