'आज़म खान पर कुछ भी बोलना बेकार की बात'

  • 'आज़म खान पर कुछ भी बोलना बेकार की बात'
You Are Here
'आज़म खान पर कुछ भी बोलना बेकार की बात''आज़म खान पर कुछ भी बोलना बेकार की बात''आज़म खान पर कुछ भी बोलना बेकार की बात'

आगरा: डा. भीम राव अम्बेदकर यूनिवर्सिटी के 82वें दीक्षांत समारोह में आए राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि आज़म खान तो शिकायत करते रहते हैं, उन पर क्या बोला जाए। उन पर कुछ भी नहीं बोल सकता हूं। इसके आगे राज्यपाल ने कुछ भी नहीं कहा और अपनी गाड़ी में जाकर बैठ गए।

दीक्षांत समारोह के बाद जब राज्यपाल राम नाईक चलने के लिए आगे हुए तो पत्रकारों ने उन्हें घेर लिया। उन्होंने कहा कि सिर्फ दो सवालों के जबाव दूंगा। पहला सवाल था कि आज़म खान की शिकायत है, सवाल पूरा होने से पहले ही राज्यपाल ने कहा कि वह तो शिकायत करते रहते हैं। यह उनका काम है। उन पर कुछ भी नहीं बोलूंगा।

राज्यपाल राम नाईक से दूसरा सवाल नोटबंदी पर पूछा गया, तो राज्यपाल ने कहा कि नोटबंदी काले धन के खिलाफ अच्छा कदम है लेकिन इससे आमजन को परेशानियां भी बहुत हुई हैं। केन्द्र सरकार को अब व्यवस्थाओं के सुधार के लिए थोड़ी जल्दी करनी चाहिए जिससे आमजन की समस्याएं समाप्त हो सकें।

राज्यपाल से पूछा गया कि कल्याण सिंह यदि भाजपा का सीएम चेहरा बनते हैं तो क्या राम मंदिर बनेगा? इस सवाल पर राज्यपाल ने कहा कि कल्याण सिंह के बारे में तो भाजपा वाले अच्छा बता पाएंगे, वह इस मामले में क्या बता सकते हैं। राज्यपाल राम नाईक से जब आगरा यूनिवर्सिटी के बारे में आए दिन होने वाली शिकायतों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि कुछ शिकायतें मिली हैं। यदि कोई शिकायत करता है तो कार्रवाई भी की जाएगी।

UP Political News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!