Subscribe Now!

कासगंज हिंसाः राजबब्बर के नेतृत्व में जाने वाले प्रतिनिधिमंडल को नहीं मिली अनुमति

You Are Here
कासगंज हिंसाः राजबब्बर के नेतृत्व में जाने वाले प्रतिनिधिमंडल को नहीं मिली अनुमतिकासगंज हिंसाः राजबब्बर के नेतृत्व में जाने वाले प्रतिनिधिमंडल को नहीं मिली अनुमतिकासगंज हिंसाः राजबब्बर के नेतृत्व में जाने वाले प्रतिनिधिमंडल को नहीं मिली अनुमति

लखनऊः उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले में गणतंत्र दिवस पर भड़की हिंसा को लेकर राजनीति गर्माने लगी है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल मृतक चंदन के परिजनों से मिलने से जा रहा था। इस दौरान प्रशासन ने उन्हें रोक लिया। प्रशासन ने कहा कि कासगंज सुरक्षा के मद्देनजर कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल को जाने की इजाजत नहीं दी जा सकती।

गौरतलब है कि कासगंज हिंसा के बाद शहर में तनावपूर्ण माहौल है, लेकिन अब इस पर नेताओं की बयानबाजी भी शुरू हो गई है। इससे पहले मंगलवार को अलीगढ़ से आ रहे बजरंग दल के जिला संयोजक धर्मवीर सिंह लोधी और उनके साथियों को मिशन चौराहे पर पुलिस ने रोक लिया था। उन्हें संघ कार्यालय जाना था, लेकिन पुलिस ने नहीं जाने दिया।

वहीं मंगलवार को उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने कासगंज हिंसा को एक बड़ी साजिश करार किया था। उन्होंने कहा था कि केंद्र में मोदी सरकार और प्रदेश में योगी सरकार आई है तब से विपक्ष बहुत मायूस हो गया है। जो कासगंज की स्थिति है उसमें मुझे साजिश की बू नजर आती है। योजनात्मक तरीके से मोदी और योगी को बदनाम करने के लिए ये दंगे कराए गए हैं, तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी सांसद विनय कटियार ने कासगंज हिंसा के पीछे पाकिस्तान का हाथ बताया। 



UP POLITICAL NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन