थाना बना बारातघर और पुलिस वाले बाराती, जानिए पूरा मामला

  • थाना बना बारातघर और पुलिस वाले बाराती, जानिए पूरा मामला
You Are Here
थाना बना बारातघर और पुलिस वाले बाराती, जानिए पूरा मामलाथाना बना बारातघर और पुलिस वाले बाराती, जानिए पूरा मामलाथाना बना बारातघर और पुलिस वाले बाराती, जानिए पूरा मामला

रायबरेली: रायबरेली की सरेनी पुलिस ने एक प्रेमी जोड़े का थाने में निकाह कराकर दोनों पक्षों के बीच पनपे विवाद को शांत करा दिया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि सरेनी क्षेत्र के मुरारमऊ गांव निवासी रिजवान का गांव के ही मजीर की पुत्री अजमतुन्निशा के साथ पिछले डेढ़ साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। रात रिजवान अजमतुन्निशा के घर पहुंच गया। इस बात से नाराज घरवालों ने 100 नम्बर डायल कर पुलिस को बुला लिया। मामला एक ही बिरादरी के बालिग प्रेमी जोड़े का था इसलिए पुलिस ने दोनों पक्षों को थाने बुलाकर शादी के लिए दबाव बनाया।

उन्होंने बताया कि थोड़ी सी ना-नुकुर के बाद दोनों प्रेमी जोड़ों के घर वाले राजी हो गए। पुलिस ने भी इस नेक कार्य में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हुए थाने में ही काजी को बुलवाया और वहीं निकाह पढ़ाया गया। इस बीच, थाने आने वाले फरियादी अपनी फरियाद भूल कर बारात का आनन्द लेते रहे। सरेनी पुलिस ने आगंतुकों को बाराती मान सभी की आवभगत भी की।

इतनी ही नहीं 11 हजार रुपए मेहर की रकम देकर दुल्हन को पूरे आदर सत्कार के साथ विदा भी किया। कोतवाली के अन्दर पुलिस के इस बदले हुए रूप को देखकर लोगों को सहसा यकीन ही नहीं हो रहा था। फिलहाल सरेनी पुलिस की क्षेत्र में चारों ओर सराहना की जा रही है। पुलिस अधीक्षक शिवहरि मीना ने कोतवाली में हुए निकाह नामे के बारे में कहा कि पुलिस हमेशा लोगों को जोड़ने का काम करती है।



UP HINDI NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन