दर्दनाकः पहले ऑफिस में किया बेटी का मर्डर, फिर मां को चलती कार में मारी गोली

You Are Here
दर्दनाकः पहले ऑफिस में किया बेटी का मर्डर, फिर मां को चलती कार में मारी गोलीदर्दनाकः पहले ऑफिस में किया बेटी का मर्डर, फिर मां को चलती कार में मारी गोलीदर्दनाकः पहले ऑफिस में किया बेटी का मर्डर, फिर मां को चलती कार में मारी गोली

मेरठः मेरठ के लालकुर्ती थाना इलाके के रुड़की रोड पर हुई नेहा उर्फ अनुष्का की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों ने नेहा और उसकी लापता मां सुमनलता की हत्या की वारदात और कातिल शुऐब की करतूतों का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने नेहा हत्याकांड का खुलासा करते हुए आरोपियों से घटना में प्रयुक्त 2 लग्जरी कारें और सुमनलता के जेवर, चश्मा व नकदी बरामद की है। पकड़े गए बदमाशों के नाम अमित, संदीप, नाजिश और जावेद हैं जोकि मेरठ के ही रहने वाले हैं।

इस प्रकार आरोपियों ने दिया घटना को अंजाम
हत्याकांड का खुलासा करते हुए एसपी सिटी आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि नेहा उर्फ अनुष्का की हत्या में शामिल 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। कातिल शुऐब के साथियों ने पुलिस को जो इकबालिया बयान दिया है उसे सुनकर अफसरों की रूह कांप गई है। उनके मुताबिक अनुष्का की लाश ठिकाने लगाने के बाद शुऐब ने सुमनलता को भी कार में गोली मार दी थी। पुलिस ने शुऐब के साथियों की निशानदेही पर स्कोडा कार को बरामद कर ली है। जिस इको कार में सुमनलता को गोली मारी गई वो भी पुलिस ने कब्जे में ले ली है।

अभी तक नहीं मिली सुमनलता की लाश 
हलांकि पुलिस सुमनलता की लाश को खोज नहीं पाई है। पुलिस को अब भी इस उम्मीद में है कि शुऐब मिल जाए तो पूरी हकीकत का पर्दाफाश हो सके। नेहा मर्डर मिस्ट्री को सुलझाने के लिए पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीमें लगातार संदेह के घेरे में आए लोगों से पूछताछ कर रही हैं। शुऐब के पार्टनर अमित और लावड़ में टैक्सी चलाने वाले संदीप के हालिया बयान ने पुलिस अफसरों को हैरान कर दिया है। आरोपियों के बयान के मुताबिक शुऐब ने नेहा की सिटी सेंटर स्थित अपने ऑफिस में हत्या कर दी। इसके बाद उसने लावड़ से इको गाड़ी टैक्सी चलवाने वाले मालिक को फोन कर गाड़ी भेजने के लिए कहा।

बेटी के मर्डर के बाद सुमनलता को कार में ले गए
इस बीच शुऐब, नेहा की मां सुमनलता को अपने साथ बेगमपुल पर ले आया। यहां पर उसने कई घंटों तक अपने पार्टनर अमित को सुमनलता के साथ एक रेस्टोरेंट में छोड़ दिया। सुमनलता को कोल्ड डिंक और स्नैक्स खिलवाए गए। संदीप गाड़ी लेकर पहुंचा तो अमित कार में सुमनलता को लेकर इधर-उधर घूमता रहा। रात को शुऐब स्कोडा से नेहा की लाश को ठिकाने लगाने के बाद उन्हें मिल गया। इसके बाद सुमनलता को समझाते हुए वे लावड़ चले गए। स्कोडा कार को लावड़ गैराज में खड़ी करने के बाद शुऐब इको कार में सुमनलता के साथ पिछली सीट पर बैठ गया। संदीप गाड़ी चलाने लगा। लावड़ से निकलने के बाद शुऐब का सुमन से झगड़ा हुआ तो वो बार-बार कहने लगीं कि मेरी बेटी के बारे में बताओ, नहीं तो पुलिस से शिकायत करूंगी।

अभी भी कई रहस्य सुलझने बाकी
इसके बाद दोनों में झगड़ा हुआ और बकौल संदीप सुऐब ने सुमनलता को गाड़ी में ही गोली मार दी। इसके बाद उसने गाड़ी जंगल में ले चलने को कहा। संदीप ने जंगल में बताई गई जगह पर गाड़ी रोकी तो वहां पहले से ही 2 युवक मौजूद थे। खून में लथपथ सुमन को लेकर शुऐब वहीं उतर गया। संदीप गाड़ी लेकर लावड़ चला गया। संदीप ने दूसरे दिन गाड़ी को धुलवाकर खून को साफ करा दिया। इसके बाद शुऐब सुमन को लेकर कहां गया, ये संदीप और अमित को पता नहीं। दोनों के बयान बाद पुलिस ने उन्हें भी गिरफ्तार लिया है। इको कार का मालिक भी गिरफ्त में है।

कार से सुमनलता के पर्स में जो सामान था, वो बरामद हो गया है। इको कार से भी पुलिस को गोली मारने के साक्ष्य मिल चुके हैं। संदीप ने उस रात शुऐब और सुमनलता को जिस जगह छोड़ा वहां पर पुलिस ने सोमवार को घंटों छानबीन की लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। पुलिस इस बात को लेकर हैरान है कि अगर सुमन की भी हत्या हो चुकी है तो फिर लाश को कहां ठिकाने लगाया गया। इसकी जानकारी पुलिस शुऐब के गिरफ्तार होने के बाद ही दे पाएगी।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You