Subscribe Now!

लापरवाहीः पुलिस को चकमा देकर अस्पताल से भागा कैदी, सिपाही सहित 3 पर मुकदमा दर्ज

You Are Here
लापरवाहीः पुलिस को चकमा देकर अस्पताल से भागा कैदी, सिपाही सहित 3 पर मुकदमा दर्जलापरवाहीः पुलिस को चकमा देकर अस्पताल से भागा कैदी, सिपाही सहित 3 पर मुकदमा दर्जलापरवाहीः पुलिस को चकमा देकर अस्पताल से भागा कैदी, सिपाही सहित 3 पर मुकदमा दर्ज

फतेहपुरः यूं तो आए दिन ही उत्‍तर प्रदेश पुलिस के नए-नए कारनामें सामने आते रहते हैं, लेकिन इस बार जो मामला सामने आया है वह यूपी पुलिस की लापरवाही को दर्शाता है। फतेहपुर जिला कारागार से 5 दिन पूर्व जिला अस्पताल में इलाज के लिए एक कैदी को भर्ती कराया गया। पुलिस की लापरवाही के कारण कैदी उन्हें चकमा देकर फरार हो गया। जिसके बाद भागे कैदी को खोजने के लिए पुलिस की आधा दर्जन टीमें हांफती रही, लेकिन शातिर दिमाग के इस कैदी का कोई भी सुराग हाथ नहीं लगा। 
PunjabKesari
दरअसल सजायाफ्ता कैदी शत्रुघ्न सिंह मूल रूप से अशोथर थाना क्षेत्र के एझी गांव का निवासी है। लगभग 2 दशक पहले गांव में हुए दोहरे हत्याकांड के मामले में अभी हाल ही में उसे कोर्ट ने 20 साल की सजा सुनाई थी। जिस कारण वह जिला कारागार में बन्द था। 9 फरवरी को पेट दर्द के चलते उसे जिला जेल से जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल में सरकारी डॉक्टर सक्सेना कैदी का इलाज कर रहे थे। प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो कैदी का परिवार भी शाम अस्पताल में मिलने आया था तभी सिपाहियों को चकमा देकर वह भाग निकला।
PunjabKesari
पुलिस ने बताया कि इमरजेंसी वार्ड के बेड नम्बर 24 में भर्ती कैदी की सुरक्षा के लिए जेल के 2 सिपाही मुस्तैद थे। कैदी के फरार होने की घटना का जैसे ही ड्यटी पर तैनात सिपाहियों को पता चली तो पुलिस के होश उड़ गए। काफी देर तक पुलिस वार्डों से लेकर बाथरूम तक कैदी को तलाश करते रहे, लेकिन कैदी का कुछ भी पता नहीं लगा। इस मामले में एडिशनल एसपी विनोद सिंह ने बताया कि लापरवाह सिपाही सहित 3 लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए सदर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया है।



UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन