Subscribe Now!

UP का एक शिवालय एेसा भी जहां सुरक्षा में तैनात है नागदेवता, देखिए तस्वीरें

You Are Here
UP का एक शिवालय एेसा भी जहां सुरक्षा में तैनात है नागदेवता, देखिए तस्वीरेंUP का एक शिवालय एेसा भी जहां सुरक्षा में तैनात है नागदेवता, देखिए तस्वीरेंUP का एक शिवालय एेसा भी जहां सुरक्षा में तैनात है नागदेवता, देखिए तस्वीरें

बांदाः भगवान शिव के खास दिन महाशिवरात्रि को पूरे देश में श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाया जा रहा है। बुंदेलखंड के बांदा में भी महाशिवरात्रि के पर्व में वातावरण ॐ नमा शिवाय और बम बम भोले के जयकारों से गूंज रहा है। वहीं यूपी के बांदा में वामदेवेश्वर पर्वत की गुफाओ में स्थित प्राचीन शिवालय वामदेवेश्वर मंदिर में भी सुबह से शिवभक्तों की भीड़ जुट गई है। जहां बाबा भोलेनाथ का जलाभिषेक और पूजा अर्चना की जा रही है। मान्यता है कि महामृत्युंजय मंत्र के रचियता कहे जाने वाले महर्षि वामदेव द्वारा स्थापित इस सिद्ध शिवालय में त्रेता युग में वनवास के दौरान खुद भगवान् श्रीराम आए थे। इस शिवालय में आज भी शिवभक्त नाग देव निगरानी करते हैं। 
PunjabKesari
सबसे खास बात यह है कि देश के महत्वपूर्ण स्थानों में आपने देखा होगा कि निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे और ड्रोन कैमरों का सहारा लिया जाता है, लेकिन भगवान् श्रीराम की तपोस्थली और महर्षि वामदेव की कर्मस्थली बांदा में एक ऐसी भी जगह हैं जहां शिवभक्ति में नागदेव खुद सुरक्षा की ज़िम्मेदारी संभालते हैं। दिन हो या रात, सन्नाटा हो या भक्तो की भीड़, इस शिवालय में सुरक्षा प्रहरी नागदेव हर समय गुफा में विराजमान रहते हैं और पूरी तन्मयता से अपने इष्टदेव भगवान भोलेनाथ के दर पर आने वालों पर अपनी कड़ी नज़र रखते हैं। 
PunjabKesari
लोगों का कहना है कि ये नागदेव किसी को कोई नुक्सान नहीं पहुंचाते हैं। बता दें कि मान्यता है कि त्रेता युग में महर्षि वामदेव ने बांदा मुख्यालय में केन नदी तट पर स्थित  इसी पर्वत को तपोस्थली बनाया था और उनके तप से प्रसन्न होकर खुद भगवान् शिव पार्वती इस गुफा में विराजमान हुए थे और तब से इसी जगह शिवलिंग विराजमान है। वनवास के दौरान भगवान् श्रीराम भी महर्षि वामदेव से मिलने इसी पर्वत में आए थे और भगवान् शिव की आराधना की थी।महाशिवरात्रि के दिन इस मंदिर हज़ारो श्रद्धालु पहुंचते है और भगवान भोलेनाथ की पूजा अर्चना करते हैं।  



UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन