Subscribe Now!

हर-हर मोदी, घर-घर मोदी का नारा बुलंद करने वाले अपने ही घर में बेघर होते-होते बचे: मायावती

  • हर-हर मोदी, घर-घर मोदी का नारा बुलंद करने वाले अपने ही घर में बेघर होते-होते बचे: मायावती
You Are Here
हर-हर मोदी, घर-घर मोदी का नारा बुलंद करने वाले अपने ही घर में बेघर होते-होते बचे: मायावतीहर-हर मोदी, घर-घर मोदी का नारा बुलंद करने वाले अपने ही घर में बेघर होते-होते बचे: मायावतीहर-हर मोदी, घर-घर मोदी का नारा बुलंद करने वाले अपने ही घर में बेघर होते-होते बचे: मायावती

लखनऊः बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपने जन्मदिन पर बीजेपी और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा​ कि पूंजीवादी सोच रखने वाली पार्टियां हमारी पार्टी को पसंद नहीं करती हैं। बीजेपी के लोग हमारी पार्टी को खत्म करने की किस्म-किस्म की तरकीब अपना रहे हैं। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि कांग्रेस और बीजेपी चोर-चोर मौसरे भाई हैं।

BJP पर साधा निशाना
उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा​ कि बाबा साहब को भारत रत्न क्यों नहीं दिया गया था? मंडल कमीशन की सिफारिशों का बीजेपी ने विरोध किया था। समाज के दबे कुचले लोगों को आज भी समान अधिकार नहीं मिल पा रहा है। इन वर्गों काे अपने पैरों पर न तो बीजेपी खड़ा कर पाएगी और न ही कांग्रेस। हमारी पार्टी बीच-बीच में संघर्ष करती रही है और आगे भी करती रहेगी।

EVM घोटाला कर पार्टी को पहुंचाया नुकसान
उन्होंने 2014 के लोकसभा चुनाव पर कहा कि विपक्ष ने ईवीएम पर बड़ा घोटाला करके हमारी पार्टी को राजनीतिक नुकसान पहुंचाया है। सहारनपुर की घटना में भी हमारी पार्टी को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की गई, लेकिन हमारी पार्टी की सूझबूझ से ऐसा नहीं कर पाए। उन्होंने कहा कि मुझे राज्यसभा में बोलने नही दिया गया, जिसके चलते हमने इस्तीफा दिया। इसी तरह बाबा साहब भीम राव अम्बेडकर को भी परेशान किया गया था, जिसके चलते उन्होंने कानून मंत्री पद से इस्तीफा दिया था। मायावती ने कहा कि हमारे इस्तीफे से लोगों को अब समझ आ गया है, यही कारण है कि स्थानीय निकाय चुनाव में बड़ी सफलता मिली।

मोदी जी इस बार गुजरात में बेघर होते-होते बचे
गुजरात चुनाव परिणाम काे लेकर प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि हर हर मोदी, घर घर मोदी का नारा लगाने वाले नरेंद्र मोदी अपने घर में बेघर होने से बाल-बाल बचे।

कांग्रेस पर बोला हमला
मायावती ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए पूछा कि कांग्रेस बताए कि 1951 में बाबा साहेब को इस्तीफा क्यों देना पड़ा? कांग्रेस ने मंडल कमीशन की सिफारिशें लागू क्यों लागू नहीं की? उन्होंने कहा कि इनकी मंशा देशहित में ईमानदार नहीं है इसलिए जनता ने इनको लगभग 70 वर्षी से सत्ता से दूर रखा था। अब मोदी के मंत्री ये कहते हैं कि बहुत जल्द ही संविधान बदल दिया जाएगा। इस पर तो मंत्री को तत्काल बर्खास्त कर दिया जाना चाहिए था, लेकिन आरएसएस तो इस कार्य से खुश होती है।

मायावती का 62वां जन्मदिन मना रही बसपा 
बता दें कि बसपा सुप्रीमो मायावती ने सोमवार को लखनऊ में 62वां जन्मदिन मनाया। बसपा पूरे प्रदेश में इस दिन को जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मना रही है। इस दौरान मायावती ने मेरे संघर्षमय जीवन एवं BSP मूवमेंट का सफरनामा भाग-13 का विमोचन भी किया। वहीं इस दौरान अपने संबोधन में मायावती ने बीजेपी और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा।  



UP POLITICAL NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन