Subscribe Now!

मोहन भागवत कर रहे सरकारी संस्थाओं का दुरुपयोग: कांग्रेस

You Are Here
मोहन भागवत कर रहे सरकारी संस्थाओं का दुरुपयोग: कांग्रेसमोहन भागवत कर रहे सरकारी संस्थाओं का दुरुपयोग: कांग्रेसमोहन भागवत कर रहे सरकारी संस्थाओं का दुरुपयोग: कांग्रेस

वाराणसीः पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 15 फरवरी से संघ की पाठशाला लगने जा रही है, जिसके लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत वाराणसी पहुंच रहे हैं। उनके इस कार्यक्रम को लेकर कांग्रेस ने विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है। कांग्रेस ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के आयोजित कार्यक्रमों के लिए सरकारी संस्थाओं के गलत इस्तेमाल करने का आरोप लगाते हुए उस पर तत्काल रोक लगाने की मांग की है।

इस संबंध में कांग्रेस नेता एवं वाराणसी के पूर्व सांसद डॉ. राजेश मिश्र, पूर्व विधायक अजय राय, जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने जिला अधिकारी योगेश्वर राममिश्र से मिलकर राज्यपाल रामनाईक के नाम मांगों का एक ज्ञापन सौंपा है। राय ने बताया कि राज्यपाल रामनाईक से बुनकरों के लिए तैयार किए गए ड्रेड फैसिलिटी सेंटर और शिक्षा के प्रमुख केंद्र संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय परिसर को आरएसएस के कार्यक्रमों के लिए इस्तेमाल करने पर तत्काल रोक लगाने की मांग की गई है।
PunjabKesari
उनका कहना है कि ड्रेड फैसिलिटी सेंटर बुनकरों एवं हस्तशिल्प के व्यापार को बढ़ावा देने के उद्देश्य से केंद्र सरकार द्वारा बनवाया गया था, लेकिन उसका इस्तेमाल आरएसएस के कार्यक्रम के लिए करने की अनुमति प्रशासन ने दे दी है। वहां बुनकरों को कल से ही जाने नहीं दिया जा रहा है। बाहर से आए व्यापारी भी निराश होकर लौट रहे हैं। पूरे परिसर को भगवा रंग में रंग दिया गया है। 
PunjabKesari
बता दें कि वाराणसी पहुंचने के दौरान लालपुर स्थित ड्रेड फैसिलिटी सेंटर संघ की गतिविधियों का मुख्य केंद्र रहेगा। इस ड्रेड फेसिलिटी सेंटर को ‘संघ के मुख्यालय’ का रूप दिया जा रहा है। संघ के प्रमुख स्वयंसेवकों के अनुसार पंडित दीनदयाल ड्रेड फैसिलिटी सेंटर में संघ प्रमुख सहित सभी बड़े स्‍वयंसेवक व प्रचारक प्रवास करेंगे। साथ ही इसी फैसिलिटी सेंटर में संघ प्रमुख 16 फरवरी को काशी, गोरक्ष और अवध प्रांत के प्रतिनिधियों के साथ बैठक भी करेंगे। 



UP POLITICAL NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन