कई दिनों से गायब छात्रा का मिला शव, लापरवाह 132 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर

  • कई दिनों से गायब छात्रा का मिला शव, लापरवाह 132 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर
You Are Here
कई दिनों से गायब छात्रा का मिला शव, लापरवाह 132 पुलिसकर्मी लाइन हाजिरकई दिनों से गायब छात्रा का मिला शव, लापरवाह 132 पुलिसकर्मी लाइन हाजिरकई दिनों से गायब छात्रा का मिला शव, लापरवाह 132 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर

गाजियाबाद: गाजियाबाद के मोदीनगर से बीते 4 सितंबर से लापता 14 साल की लड़की का शव मिलने से सनसनी फैल गई है। भोजपुर के पास कलछीना के जंगल में मिली लाश कई टुकड़ों में है जो कंकाल में बदल चुकी है। नौंवी की छात्रा के लापता होने के बाद उसकी गुमशुदगी दर्ज करवाई गई थी। पुलिस पर शुरू में कार्यवाई नहीं करने के आरोप हैं। गाजियाबाद पुलिस कप्तान ने लापरवाह पुलिसकर्मियों पर सख्त कार्रवाई करते हुए सभी को सस्पेंड कर दिया है। 

मोदीनगर की विधायक ने पुलिस की लगाई क्लास 
जिन लड़कों पर परिवार ने आरोप लगाया था उन्हें पकड़ कर भी पुलिस ने तब छोड़ दिया था। जबकि आज फिर उन्हीं लड़कों को पकड़ा गया है। उन लड़कों की कॉल डिटेल्स भी घटना से मैच कर रही है। आज लड़की की लाश कंकाल के रूप में भोजपुर के जंगल में मिली। इसके बाद गुस्से में आई मोदीनगर की विधायक मंजू शिवाच ने थाना मोदीनगर जाकर पुलिस की जमकर क्लास लगाई। मोदीनगर से बीजेपी विधायक ने आरोप लगाया कि कई और लड़कियां लापता हैं जिन पर पुलिस काम नहीं कर रही है। 

पुलिस को प्रेम प्रसंग में हत्या का शक
पुलिस को प्रेम प्रसंग में हत्या का शक है। छात्रा 4 सितंबर से स्कूल जाते समय लापता हो गयी थी। परिवार ने किराए पर रहने वाले एक लड़के पर आरोप लगाया है जिसने धमकी भी दी थी। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। आरोप है कि पुलिस ने उस वक्त लड़की की गुमशुदगी की रिपोर्ट नहीं लिखी थी। जिस वजह से उसका शव मिला। परिवारवालों का रो-रो कर बुरा हाल है। 5 लड़के इस मामले में पकड़े गए हैं। जिनमें से एक लड़की का कथित प्रेमी है। पुलिस को गैंगरेप की भी आशंका है। 

पुलिस ने आरोपी 5 लोगों को हिरासत में लिया 
बच्ची के पिता नरेश के बताए अनुसार अब तक 5 लोगों को हिरासत में लिया गया है। बच्ची से उसमें से एक से करीबी संबंध होने की बात भी कही जा रही है। हालांकि पुलिस ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। जहां लाश मिली वहां लड़की का जबड़ा पास में पड़ा था। लड़की का जूता थोड़ी दूरी पर था। यानी लड़की की हत्या बेरहमी से की गई। 

छात्रा के शव को लेकर थाने पर धरना देने की कोशिश
वहीं इलाके में छात्रा की मौत का मामला लगातार तूल पकड़ रहा है। रात के समय परिजनों ने छात्रा के शव को लेकर थाने के सामने धरने पर बैठने की कोशिश की। हालांकि उन्हें वहां से हटा दिया गया। 

पांच लोगों की हो चुकी है गिरफ्तारी-एसपी क्राइम
गाजियाबाद के एसपी क्राइम ने बताया कि मामले में पांच लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। बाकी आरोपियों की तलाश की जा रही है। थाना इंचार्ज और चौकी इंचार्ज को हटा दिया गया है जिनके ऊपर लापरवाही के इल्जाम लगे हैं। 

132 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर 
बच्ची की हत्या के मामले में जहां एक तरफ मोदी नगर में भारी आक्रोश देखने को मिल रहा था तो वहीं दूसरी तरफ गाजियाबाद पुलिस कप्तान एच.एन. सिंह ने 132 पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया। पुलिस कप्तान का कहना है कि इस मामले में लापरवाही बरती गई। जिस वजह से पुलिसकर्मियों को हटा दिया गया है और उनकी जगह पर नए पुलिसकर्मियों को तैनात कर दिया गया है। 

पुलिस पर खड़े हुए सवाल
पुलिस ने जिस लापरवाह तरीके से इस मामले में काम किया है उससे यूपी में बच्चों की सुरक्षा पर सवाल खड़े हो गए हैं। अगर वक्त रहते पुलिस इस लड़की की तलाश करती तो आज बच्ची जिंदा होती। ​



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!