बेटे की चाहत में ससुरालियों ने की मां की बेरहमी से पिटाई, पुल‍िस ने भी की अनदेखी

You Are Here
बेटे की चाहत में ससुरालियों ने की मां की बेरहमी से पिटाई, पुल‍िस ने भी की अनदेखीबेटे की चाहत में ससुरालियों ने की मां की बेरहमी से पिटाई, पुल‍िस ने भी की अनदेखीबेटे की चाहत में ससुरालियों ने की मां की बेरहमी से पिटाई, पुल‍िस ने भी की अनदेखी

अमेठीः अमेठी में एक बहुत ही दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। जहां बेट‍ियों के जन्म से नाराज ससुरालियों ने मह‍िला की जमकर प‍िटाई कर दी। पीड़‍िता का आरोप है क‍ि ससुराल‍ियों का कहना है क‍ि उसने 3 बेट‍ियों को ही क्यों जन्म द‍िया, एक भी लड़का क्यों नहीं पैदा किया। इसी बात को लेकर आए द‍िन मारपीट करने लगे। वहीं योगी राज में पुलिस ने आरोपी को ही छोड़ दिया।

क्या है माजरा?
दरअसल राजधानी लखनऊ के अमीनाबाद में जंगली गंज की रुबीना बानों की शादी 2009 में कमरौली के जमाल वारिस के साथ हुई थी। पीड़ित रुबीना की मानें तो शादी के बाद से सुसरालवालों ने दहेज के लिए उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। रुबीना के पिता ने शादी के दो साल के बाद लखनऊ की अदालत में दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कराया था। अदालत में मामला चला और जब बात गुजारे-भत्ते पर पहुंची तो ससुरालवालों ने रुबीना से सुलह कर उसे वापस सुसराल बुला लिया, लेकिन इसके बाद भी सास-ससुर और पति दहेज में बाइक और कैश न मिलने पर इसे यातनाएं पहुंचाने लगे।

3 बच्चियों के जन्म पर ससुरालवाले करते है प्रताडित
रुबीना के लिए दहेज की ही प्रताड़ना नहीं बल्कि मासूम बच्चियों को जन्म देने का भी दंड मिलता रहा। अब तक उसकी शादी के 8 साल हो चले हैं, इस दरमियान उसने 3 बच्चियों को जन्म दिया है। हाल ही में दो महीने पहले उसने तीसरी बेटी को जन्म दिया और अब इन 3 बच्चियों को जन्म देना उसके लिए काल बन गया है।

रुबीना के पूरे शरीर पर हैं चोट के निशान 
तीन बच्चियां सानिया (5), ज़ेबा (2) और 2 महीने की इकरा के जन्म के बाद रुबीना के ऊपर जुल्म का पहाड़ टूट गया है। आए दिन उसे सुसराल में इसलिए यातनाएं पहुंचाई जाती रही कि उसने बेटियों को क्यों जन्म दिया। पीड़ित रुबीना की मानें तो पहले उसे दहेज के लिए और अब बेटियों को जन्म देने पर सुसराल वालों ने कमरे में बंद कर दिया, लाख चीख-पुकार पर भी गांव के लोगों से रहम की भीख नहीं मिली। इसी क्रम में दो दिन पहले पति जमाल वारिस और ससुरालवालों ने रुबीना को बेटियों के जन्म देने के मसले पर जमकर पीटा। सुसराल के वहशी दरिंदों ने उसकी आंख तक फोड़ने का मन बना लिया था।

आरोपी घूम रहे हैं आजाद 
इसके बाद टूटी हुई रुबीना ने डायल 100 पर कॉल किया। रुबीना की मानें तो पुलिस मौके पर पहुंची और पति को गिरफ्तार किया लेकिन हल्के मुकदमे दर्ज कर उसे छोड़ दिया। आरोप है कि बाद में पुलिस ने आरोपी पति से सेटिंग कर ली है। यही नहीं पीड़ित के शरीर पर चोट के निशान मामले की गंभीरता बता रहे हैं।

इलाज तक के लिए मुहाल है रुबीना 
पीड़ित की मानें तो ये कहकर उसे घर से बाहर कर दिया गया है की अब उसे तलाक दे दिया जाएगा। अपनी आप बीती बताते हुए पीड़ित ने बताया कि उसके वालिद की मौत हो चुकी है, मायके में 4 भाई हैं लेकिन सभी अभी छोटे हैं। आखिर उसको इंसाफ कैसे मिलेगा और कौन दिलाएगा? यही नहीं उसका कहना है कि उसकी बड़ी बेटी पूरे 5 साल की हो चली है लेकिन आज तक उसका स्कूल में एडमिशन नहीं हो सका है।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!