लालची पति ने फोन पर कहा- 'या लाओ पैसे या खाओ जहर' और नवविवाहिता ने...

  • लालची पति ने फोन पर कहा- 'या लाओ पैसे या खाओ जहर' और नवविवाहिता ने...
You Are Here
लालची पति ने फोन पर कहा- 'या लाओ पैसे या खाओ जहर' और नवविवाहिता ने...लालची पति ने फोन पर कहा- 'या लाओ पैसे या खाओ जहर' और नवविवाहिता ने...लालची पति ने फोन पर कहा- 'या लाओ पैसे या खाओ जहर' और नवविवाहिता ने...

मेरठः मेरठ में दहेज उत्पीड़न से परेशान व पति के उकसाने पर एक विवाहिता ने सल्फास खाकर जान दे दी। पति व ससुर समेत 9 के खिलाफ मृतिका के पिता ने दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है।

दहेज की खातिर करते थे परेशान
दरअसल मुंडाली थाने के गांव रछौती निवासी जगदीश सिंह पुत्र भगवत प्रसाद ने अपनी बेटी रुचिका (24 वर्ष) की शादी 17 अप्रैल 2016 को रिंकू निवासी दिल्ली दयालपुर से की थी। परिजनों का आरोप है कि शादी के 6 महीने बाद से ही उसे पति व ससुराल वाले दहेज के लिए परेशान कर रहे थे। मांग पूरी न करने पर पति ने बेटी को उसके भाई के घर छोड़ रखा था। इस पर जगदीश ने कोर्ट में मुकदमा दर्ज करा दिया था।

या लाओ पैसे या खाओ जहरः पति
पिता का आरोप है कि उस मुकदमे के डर से 6 जून को रिंकू ने फोन करके रुचिका को अज्ञात स्थान पर बुलाया था। पति रिंकू ने उससे यह कहा कि या तो 3 लाख रुपए लेकर आना वरना यह पकड़ो सल्फास और खाकर मर जाना। पति ने उसे 2 पैकेट दे दिए। वह लेकर घर आ गई। पति ने उसे फोन भी किया, उससे यह कहा कि अभी तक वह जहर खाकर मरी नहीं। जिसके बाद बेटी ने सल्फास खा लिया। जिस पर उसे मंगलम अस्पताल में भर्ती कराया जहां रात करीब 9.30 बजे उसकी मौत हो गई।

वहीं सुबह 10 बजे मोर्चरी पर शव पहुंच जाने के बाद भी दोपहर तक पोस्टमार्टम न होने पर परिजनों ने हंगामा किया। सूचना पर भाजपा विधायक भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने सीएमओ व सीएमएस को शीघ्र पोस्टमार्टम कराने के लिए कहा। इसके बाद तीन बजे पोस्टमार्टम हुआ।

UP HINDI NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You