12 साल की मासूम ने DIG से लगाई इच्छामृत्यु की गुहार, वजह कर देगी हैरान

You Are Here
12 साल की मासूम ने DIG से लगाई इच्छामृत्यु की गुहार, वजह कर देगी हैरान12 साल की मासूम ने DIG से लगाई इच्छामृत्यु की गुहार, वजह कर देगी हैरान12 साल की मासूम ने DIG से लगाई इच्छामृत्यु की गुहार, वजह कर देगी हैरान

वाराणसी: उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले में एक 12 साल की लड़की इच्छामृत्यु का पत्र लेकर डीआईजी से मिलने पहुंची। अब इस लड़की का यह पत्र सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है। लड़की की इच्छामृत्यु की बात सामने आते ही डीआईजी ने राजपत्रि अधिकारी को मामले की जांच सौंप दी है। जानकारी के अनुसार मामला वाराणसी के चंदौली का है। यहां की निवासी (12) ऋतु (काल्पनिक नाम) ने इच्‍छामृत्‍यु की मांग करते हुए पत्र में लिखा है कि पुलिस अंकल, मेरे मामा चंद्रशेखर तिवारी 14 नवंबर 2015 को घर से मम्मी को ले गए और कहीं गायब कर दिया है। पापा ओमप्रकाश पांडेय भी 10 महीनों से जेल में है। हम तीन भाई-बहनों का कोई सहारा नहीं है। पापा को दहेज उत्पीड़न में फंसाकर जेल भिजवा दिया। भाई-बहनों में मैं सबसे बड़ी हूं। मामा हम लोगों को अक्सर घर आकर फुसलाते थे, चलो तुम्हें ले चलूं। नाना की तबीयत खराब होने की बात कहकर मामा के साथ मां गई तो आज तक नहीं आई हैं।

मामले की जांच में जुटी पुलिस
इच्छामृत्यु का पत्र लिखने वाली ऋतु ने बताया कि उसका मामा ऑटो ड्राइवर है। दादी छोटा-मोटा काम करती है। पैसों की कमी होने के कारण हमारी पढ़ाई भी छूट चुकी है। छोटा-मोटा काम करके जो भी पैसा आता है, उसी से मुश्किल से गुजारा चलता है। वहीं मामला का पता लगने पर डीआईजी विजय भूषण का कहना है कि बच्ची अभी नाबालिग है। मामले की जांच की जा रही है।

UP Hindi News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!