यूपी में बाढ़ और बच्चों की मौत ने सपा को दिए योगी सरकार को घेरने के मुद्दे

  • यूपी में बाढ़ और बच्चों की मौत ने सपा को दिए योगी सरकार को घेरने के मुद्दे
You Are Here
यूपी में बाढ़ और बच्चों की मौत ने सपा को दिए योगी सरकार को घेरने के मुद्देयूपी में बाढ़ और बच्चों की मौत ने सपा को दिए योगी सरकार को घेरने के मुद्देयूपी में बाढ़ और बच्चों की मौत ने सपा को दिए योगी सरकार को घेरने के मुद्दे

लखनऊः उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में आई बाढ़ और गोरखपुर में बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत के बाद प्रदेश में लगभग हाशिए पर पड़ी समाजवादी पार्टी एक बार फिर से नए जोश में आ गई है। उसे सत्तारूढ़ दल को घेरने के मुद्दे मिल गए हैं।

पार्टी के अंदरूनी सूत्रों के मुताबिक विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और उसके सहयोगियों को 403 में से 325 सीटे मिलने के बाद हाशिए पर पहुंची सपा अपनी खोई हुई जमीन वापस पाने की कोशिश में लगी हुई है। हाल ही में पार्टी के कुछ विधान परिषद सदस्यों के इस्तीफे और सपा प्रमुख अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव के लगातार हमलों की पृष्ठभूमि में पार्टी आम जनता और समर्थकों के बीच अपनी पुरानी साख वापस पाने के लिए भरपूर प्रयास कर रही है।

बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी के कारण 60 बच्चों की मौत ने अखिलेश को एक बार फिर आम लोगो से जुडऩे का मौका दे दिया है। वह ना केवल मारे गए बच्चों के परिजनों से मिले बल्कि बच्चों के परिजनों को पार्टी फंड से 2-2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने का एेलान भी किया। सपा प्रमुख ने मुख्यमंत्री योगी के गृह जनपद में इस तरह की घटना होने पर सरकार को घेरा और सपा नेताओं की एक टीम को मेडिकल कॉलेज का दौरा करने तथा मामले पर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा।

अखिलेश ने कहा कि सरकार असंवेदनशील है। सरकार अपनी जिम्मेदारियों से भाग रही है और विपक्ष पर बेबुनियाद आरोप लगा रही है। सपा ने इस घटना में मारे गए बच्चों के परिजनों को 20-20 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग सरकार से की है।  प्रदेश में बाढ़ के प्रकोप को देखते हुए सपा ने विभिन्न बाढ़ प्रभावित जिलों में वरिष्ठ पार्टी नेताओं की टीमें बना दी हैं।

सपा के प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि हमारी पार्टी के अध्यक्ष आम जनता की समस्याओं के प्रति बहुत संवेदनशील हैं। वह चाहते हैं कि पार्टी से जुड़े लोग आम जनता की मदद करें और भाजपा सरकार की असंवेदनशीलता को उजागर करें।
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!