Subscribe Now!

BHU में डॉक्टरों की बडी लापरवाही, कभी रूई-कभी सुई और अब छोड़ दी 5 नीडल

You Are Here
BHU में डॉक्टरों की बडी लापरवाही, कभी रूई-कभी सुई और अब छोड़ दी 5 नीडलBHU में डॉक्टरों की बडी लापरवाही, कभी रूई-कभी सुई और अब छोड़ दी 5 नीडलBHU में डॉक्टरों की बडी लापरवाही, कभी रूई-कभी सुई और अब छोड़ दी 5 नीडल

वाराणसी: उत्तर प्रदेश में वाराणसी के काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के सर सुंदर लाल अस्पताल में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां डॉक्टरों ने ऑपरेशन के दौरान एक महिला के पेट में 5 सुइयां छोड़ दीं।
PunjabKesari
पुलिस सूत्रों ने बताया कि इस मामले में पीड़िता रीना द्विवेदी ने लंका थाने में तहरीर दी है। इस आधार पर जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि उच्चतम न्यायालय के निर्देश के अनुसार प्रारंभिक जांच के लिए इस मामले को मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमएओ) के पास भेजा गया है। उनकी रिपोर्ट आने के बाद प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
PunjabKesari
पीड़िता के पति विकास द्विवेदी का कहना है कि लगभग 6 माह पहले उनकी पत्नी डिलीवरी के लिए बीएचयू अस्पताल आई थी। डिलीवरी के बाद उनकी नसबंदी की गई थी। डॉ. निशा रानी अग्रवाल ने ऑपरेशन किया था। ऑपरेशन के लगभग 2 महीने बाद पेट में अक्सर दर्द होने लगा।
PunjabKesari
इसके बारे में डॉ. अग्रवाल से संपर्क करने पर बताया गया था कि धीरे-धीरे दर्द ठीक हो जाएगा, लेकिन वह और बढ़ गया। इसके बाद उन्होंने यहां के दूसरे डॉक्टर एस. के. खन्ना को दिखाया तो जांच के दौरान पता चला कि पेट में 5 सुइयां हैं। इसी वजह से दर्द होता है।
PunjabKesari
डॉ. खन्ना ने इसके लिए रीना का ऑपरेशन किया, लेकिन 2 सुइयां ही निकली। इस वजह से समस्या पहले की तरह ही बनी हुई है। संबंधित डॉक्टरों से शिकायत करने पर वे इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।



UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन