गोरखपुर मेडिकल कांड से कांग्रेस को मिली ‘ऑक्सीजन’

  • गोरखपुर मेडिकल कांड से कांग्रेस को मिली ‘ऑक्सीजन’
You Are Here
गोरखपुर मेडिकल कांड से कांग्रेस को मिली ‘ऑक्सीजन’गोरखपुर मेडिकल कांड से कांग्रेस को मिली ‘ऑक्सीजन’गोरखपुर मेडिकल कांड से कांग्रेस को मिली ‘ऑक्सीजन’

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजनीति में हाशिये पर पहुंची कांग्रेस को गोरखपुर मेडिकल कांड से ऑक्सीजन मिल गई। कांग्रेस ने बीआरडी मेडिकल कॉलेज में पिछली 10-11 अगस्त को कथित रूप से ऑक्सीजन की कमी से 30 बच्चों की मौत के मामले को सबसे तेजी से उठाया और उसके नेता अगले ही दिन गोरखपुर जा पहुंचे।

कांग्रेस के प्रान्तीय अध्यक्ष राज बब्बर ने गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में हुई बच्चों की मौत को सरकार की लापरवाही से हुई ‘हत्या’ करार देते हुए इसके जिम्मेदारों पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग की। पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी पिछली 19 अगस्त को गोरखपुर पहुंचे और मेडिकल कॉलेज में मरे बच्चों के परिजनों से मुलाकात के बाद इस घटना को ‘राष्ट्रीय आपदा’ करार दिया। उन्होंने कहा कि देश को एेसा ‘न्यू इंडिया’ नहीं चाहिए।

कांग्रेस इस मुद्दे को लेकर खासी आक्रामक मुद्रा में आ गई। एेसा लगा कि गत विधानसभा चुनाव में महज 7 सीटें हासिल करके हाशिये पर पहुंची इस पार्टी को संजीवनी मिल गई हो। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस की आक्रामकता पर अंकुश लगाने की कोशिश करते हुए राहुल पर ही हमला बोला और कहा कि वह गोरखपुर को ‘पिकनिक स्पॉट’ नहीं बनने देंगे। हालांकि कांग्रेस प्रवक्ता द्विजेन्द्र त्रिपाठी का कहना है कि उनकी पार्टी गोरखपुर मेडिकल कॉलेज की घटना को किसी चुनाव के नजरिए से नहीं उठा रही है। वह केवल पीड़ितो की आवाज बनने कोशिश कर रही है।

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि यह राष्ट्रीय त्रासदी है। यह हिन्दुस्तान के स्वास्थ्य सेवा तंत्र की हालत को जाहिर करती है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी न्यू इंडिया की बात करते हैं। हमें एेसा न्यू इण्डिया नहीं चाहिए, हमें वह इण्डिया चाहिए जिसमें अस्पताल चलें, जिसमें गरीब लोग अपने बच्चों को अस्पताल ले जाएं और खुशी से वापस लौटें।



UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!