विहिप कार्यक्रम के दौरान बोले योगी, राजनीतिक लाभ के लिए इतिहास को तोड़ा-मरोड़ा गया

  • विहिप कार्यक्रम के दौरान बोले योगी, राजनीतिक लाभ के लिए इतिहास को तोड़ा-मरोड़ा गया
You Are Here
विहिप कार्यक्रम के दौरान बोले योगी, राजनीतिक लाभ के लिए इतिहास को तोड़ा-मरोड़ा गयाविहिप कार्यक्रम के दौरान बोले योगी, राजनीतिक लाभ के लिए इतिहास को तोड़ा-मरोड़ा गयाविहिप कार्यक्रम के दौरान बोले योगी, राजनीतिक लाभ के लिए इतिहास को तोड़ा-मरोड़ा गया

लखनऊः गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात के बाद सीएम योगी केजीएमयू कन्वेंशन सेंटर में आयोजित विश्व हिन्दू परिषद के हिन्दू विजयोत्सव दिवस कार्यक्रम में पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि जो कौम अपने इतिहास की रक्षा नहीं कर सकती, वह कौम भूगोल को नहीं सजो सकती। साथ ही उन्होंने कहा कि राजनीतिक लाभ के लिए इतिहास को तोड़ा-मरोड़ा गया। हमारे स्वतंत्रता आंदोलन को विद्रोह बताया गया।

अशोक सिंघल हम सब के प्रेरणास्रोत 
दरअसल राजधानी के कन्वेंशन सेंटर में आयोजित कार्यक्रम में सीएम योगी ने कहा कि आपके बीच में मुझे आनंद की अनुभूति हो रही है।  इस दौरान उन्होंने अशोक सिंघल का स्मरण करते हुए कहा​ कि अशोक सिंघल का त्याग और बलिदान रहा। अशोक सिंघल की स्पष्ट भावना थी। वह हम सब के प्रेरणास्रोत थे। विश्व हिन्दू परिषद को सिंघल ने आगे बढ़ाया। मैं श्रावस्ती में इस कार्यक्रम में जा चुका हूं। जो कौम अपने इतिहास की रक्षा नहीं कर सकती, वह कौम भूगोल को नहीं सजो सकती। सीएम ने कहा कि हमने महराज सुहेल देव को भुला दिया। तीन लाख की सेना का मुकाबला सुहेल देव ने किया। जब हम इतिहास से छेड़छाड़ करेंगे तो इसका प्रभाव समाज सहन करेगा।

महापुरुषों के संबंध में जानना जरूरी
महापुरुषों के संबंध में जानना जरूरी है। सीएम ने कहा कि महापुरुषों की गाथाओं को पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाएंगे। आजादी दिलाने वाले महापुरुष पाठ्यक्रम का हिस्सा होंगे। उन्होंने कहा कि अभी तक राजनीतिक लाभ के लिए इतिहास को तोड़ा-मरोड़ा गया। सच सामने आने के बाद जनता सम्मान के बाद अपमान करेगी। हमारे स्वतंत्रता आंदोलन को विद्रोह बताया गया।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ नि:स्वार्थ भावना से कर रहा काम 
सामाजिक समता के लिए महापुरुष हमारे आदर्श हैं। एक सरकार ने शरारत की थी सभी जनजातियां हिन्दू नहीं थीं। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ नि:स्वार्थ भावना से काम कर रहा है। आरएसएस जब मलिन बस्ती में काम करता है तो उंगली उठती है। आरएसएस पर सांप्रदायिकता फैलाने की उंगली उठती है।

पाठ्यक्रम में महापुरुषों की वीरगाथा शामिल होगी
सीएम ने कहा कि सांप्रदायिक और राष्ट्रवादी लोगों पर चर्चा जरूरी है। अशफाक उल्ला खां का हर व्यक्ति सम्मान करता है। डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम का सम्मान पूरे विश्व में हो रहा है। व्यक्ति का वास्तविक सम्मान मरने के बाद भी होता है। महाराजा सुहेल देव महान वीर योद्धा थे। महाराजा सुहेल देव के नाम पर हर नागरिक को गर्व है। सीएम ने इस दौरान ऐलान किया कि पाठ्यक्रम में महाराजा सुहेल देव को शामिल करेंगे। सुहेल देव समेत महापुरुषों की वीरगाथा शामिल होगी।

महापुरुषों के नाम पर स्मारक बनाएंगे
बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के बारे में हर बच्चे को जानकारी हो। संघर्ष के रास्ते पर चलकर डॉ.अंबेडकर आगे बढ़े। अब स्कूलों में महापुरुषों के नाम पर छुट्टियां नहीं होंगी। बल्कि इस दिन महापुरुषों के बारे में जानकारी दी जाएगी। योगी ने कहा कि हम सुहेलदेव के नाम पर संस्थाएं, स्मारक बनाएंगे। महापुरुषों के नाम पर कार्यक्रमों का आयोजन होगा।

 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You