बिल्डिंग में लगी भीषण आग, 30 छात्रों ने खिड़कियों से कूदकर बचाई अपनी जान

You Are Here
बिल्डिंग में लगी भीषण आग, 30 छात्रों ने खिड़कियों से कूदकर बचाई अपनी जानबिल्डिंग में लगी भीषण आग, 30 छात्रों ने खिड़कियों से कूदकर बचाई अपनी जानबिल्डिंग में लगी भीषण आग, 30 छात्रों ने खिड़कियों से कूदकर बचाई अपनी जान

लखनऊः राजधानी में उस वक्त हड़कंप मच गया जब 4 मंजिला बिल्डिंग में शार्ट सर्किट से भीषण आग लग गई। इस दौरान दूसरी मंजिल पर बनी कोचिंग में छात्र पढ़ रहे थे। आग लगने के कारण नीचे जाने का रास्ता ब्लॉक हो गया और छात्र भागकर तीसरी मंजिल पर पहुंच गए। जिसके बाद खिड़की से कूदकर दूसरी बिल्डिंग की छत पर पहुंचकर छात्रों ने अपनी जान बचाई।

जानिए क्या है पूरा मामला?
जानकारी के मुताबिक मामला अलीगंज कपूरथला का है। जहां अमीनाबाद निवासी सुफेद हुसेन की 4 मंजिला इमारत सदफ सेंटर में कई ऑफिस, शोरूम और कोचिंग हैं। बिल्डिंग की दूसरी मंजिल पर टी-ट्राउंस नाम से इंग्लिश स्पीकिंग और पर्सनैलिटी डेवलपमेंट का कोर्स चलता हैं। जिसके संचालक मनोज गुप्ता हैं।

एमसीवी में शार्ट सर्किट होने से लगी आग
संचालक ने बताया कि क्लास में करीब 30 छात्र पढ़ाई कर रहे थे। तभी सीढ़ी पर लगी एमसीवी में शार्ट सर्किट होने से आग लग गई। हड़कंप से पहली मंजिल के सभी लोग बाहर निकल गए। दूसरी मंजिल पर कोचिंग क्लास रूम में धुआं भरने लगा। क्लास रूम में फंसे छात्र भागते हुए बिल्डिंग के तीसरी मंजिल पर पहुंचे। जिसके बाद खिड़की से कूदकर दूसरी बिल्डिंग की छत पर पहुंचकर छात्रों ने अपनी जान बचाई।

फंसे छात्रों की रेस्क्यू प्लानिंग नहीं की गई
आग लगने पर स्थानीय लोगों ने 100 नंबर डायल कर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पुलिस फायर ब्रिगेड की 2 गाड़ियों के साथ पहुंची। लेकिन दूसरी मंजिल पर फंसे छात्रों की रेस्क्यू की कोई प्लानिंग नहीं की गई।

क्या कहना है पुलिस का?
इंदिरानगर फायर ब्रिगेड के ऑफिसर उमाकांत सिंह ने बताया कि 8:25 पर हमें सूचना मिली। फायर बिग्रेड की 2 गाड़ियों ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया। बिल्डिंग में सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं थे। ऊपर की मंजिल में धुआं भर जाने से लोग दूसरी बिल्डिंग की छत पर सुरक्षित उतर गए।
 



UP LATEST NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!