प्रेमी ने प्रेमिका को बनाया 'लेडी डोनर', अपने सामने करवाता था दोस्तों से रेप

  • प्रेमी ने प्रेमिका को बनाया 'लेडी डोनर', अपने सामने करवाता था दोस्तों से रेप
You Are Here
प्रेमी ने प्रेमिका को बनाया 'लेडी डोनर', अपने सामने करवाता था दोस्तों से रेपप्रेमी ने प्रेमिका को बनाया 'लेडी डोनर', अपने सामने करवाता था दोस्तों से रेपप्रेमी ने प्रेमिका को बनाया 'लेडी डोनर', अपने सामने करवाता था दोस्तों से रेप

आगराः बहुचर्चित फिल्म ‘विक्की डोनर’ तो अपने देखी ही होगी, ठीक एेसा ही कुछ रियल लाइफ में भी देखने को मिला है। आगरा में एक प्रेमी ने नामी गरामी अस्पताल के साथ मिलकर अपने प्रेमिका को लेडी डोनर बना दिया। इतने सब के बाद जब पैसे की भूख शांत नहीं हुई तो उसने प्रेमिका को दोस्तों को परोसने से भी परहेज नहीं किया। वहीं इस दरिंदगी के बाद पीड़िता ने पुलिस से मदद की गुहार लगाई है।

5 साल तक चला प्रेम-प्रसंग एक दिन टुट गया
दरअसल ये मामला है थाना ताजगंज इलाके में रहने वाली एक युवती का। जिसे 5 साल पहले सदर इलाके में रहने वाले युवक अविनाश चंदेल से प्यार हो गया था। इन दौरान उन दोनों में शारीरिक संबंध भी बन गए, जिसके दम पर वह प्रेमिका को ब्लैकमेल कर परेशान करने लगा। इस बात पर युवती के परिजनों ने वर्ष 2014 में उसके थाने में मुकदमा दर्ज करवा दिया। जिसके बाद प्रेमी ने भविष्य में दोबारा परेशान न करने की बात कहकर राजीनामा कर लिया था।

प्रेमिका को ससुराल से बाहर निकलवाया
वहीं परिजनों ने युवती की शादी गुड़गांव में कर दी, लेकिन पूर्व प्रेमी वहां भी पहुंच गया। प्रेमिका के पति और ससुराल वालों को अपने संबंधों की जानकारी देकर भड़का दिया। जिस कारण पति ने युवती से अपना नाता तोड़ लिया। जिसके बाद वो अपने माता पिता के यहां रह रही थी।

दोबारा शुरू हुआ प्रेम प्रसंग
युवती की मानें तो पूर्व प्रेमी ने दोबारा आना-जाना शुरू कर दिया। शादी का आश्वासन देकर 5 महीने पहले उसे साथ ले गया। दोनों शहीद नगर में किराए पर कमरा लेकर रहने लगे। लेकिन 3 सप्ताह बाद उसे वह जबरन चरस, अफीम आदि का नशा करवाने लगा। वह दिन भर बेहोशी की हालत में पड़ी रहती।

दोस्तों के सामने भी परोसता था प्रेमी
युवती का आरोप है कि इस दौरान प्रेमी घर पर दोस्तों को बुलाकर उनके सामने परोसने लगा। होश में आने पर उसने कई बार इसका विरोध किया, पर प्रेमी मारपीट करने लग जाता। आरोप यह भी है कि कुछ महीने से प्रेमी उसे चेकअप के बहाने बाग फरजाना स्थित एक अस्पताल लेकर जाने लगा। वहां डॉक्टर उसे इंजेक्शन लगाकर अंडाणु निकाल लेते थे।

अंडाणु निकलवाकर एेंठता था मोटी रकम
उसने छानबीन की तो पता चला कि प्रेमी और अस्पताल वाले मिलकर साजिश के तहत टेस्ट ट्यूब बेबी के लिए अंडाणु निकालते थे। डॉक्टर बदले में 9 हजार रुपए प्रेमी को देते थे, सच्चाई पता चलने पर उसने डोनर बनने से इन्कार कर दिया। इस पर प्रेमी ने उसे घर में बंधक बना लिया। एक दिन युवती उसके चंगुल से बचकर भाग निकली और पुलिस से गुहार लगाई। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

UP CRIME NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !