राजधानी के नामी अस्पताल में नर्स से छेड़छाड़

  • राजधानी के नामी अस्पताल में नर्स से छेड़छाड़
You Are Here
राजधानी के नामी अस्पताल में नर्स से छेड़छाड़राजधानी के नामी अस्पताल में नर्स से छेड़छाड़राजधानी के नामी अस्पताल में नर्स से छेड़छाड़

लखनऊ: यूपी के सीएम एक तरफ महिला सुरक्षा पर किए गए प्रयासों के लिए अपनी सरकार की पीठ थपथपा रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ हर रोज महिलाओं के यौन शोषण की खबरें आ रही हैं। ताजा मामला राजधानी के नामी अस्पताल का है जहां नर्स के साथ छेड़छाड़ की वारदात को अंजाम दिया गया है। पीड़ित नर्स की शिकायत पर अस्पताल प्रशासन ने आरोपी कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई कर दी है।

यह है मामला
राजधानी के चौक इलाके में स्थित किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय (केजीएमयू) के ट्रॉमा सेंटर में कर्मचारी द्वारा नर्स के साथ छेड़छाड़ करने का मामला सामने आया है। पीड़ित नर्स ने जब इसका विरोध किया तो उसको नौकरी से निकालने की धमकी दी गई। इसके बाद उसने मामले की शिकायत विभागाध्यक्ष से की। डॉक्टरों के माध्यम से मामला सीएमएस तक पहुंच गया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए कर्मचारी को विभाग से हटा दिया गया है। साथ ही इसकी जांच शुरू हो गई है।

नर्स ने बताई आपबीती
पीड़ित नर्स ने अपनी आपबीती में बताया कि ट्रॉमा सेंटर के पीडियाट्रिक्स वार्ड में संविदा पर कार्यरत है। शुक्रवार की रात ड्यूटी के दौरान वहीं पर काम करने वाले एक कर्मचारी ने नर्स के साथ छेड़छाड़ की। इस दौरान जब नर्स ने शोर मचाया तो उसकी आवाज सुनकर कई कर्मचारी वहां पहुंच गए। इसी बीच आरोपी कर्मचारी वहां से भाग निकला। पीड़िता को भी घर भेज दिया गया। बाद में उसने विभागाध्यक्ष से रोते हुए आपबीती बताई। विभागाध्यक्ष ने मामले की जानकारी सीएमएस डॉ. एसएन शंखवार को दी। इसके बाद सीएमएस ने आरोपित कर्मचारी की जमकर फटकार लगाई और विभाग से हटाकर जांच का आदेश दिया। विभागाध्यक्ष मामले की जांच कर रहे हैं।

सीसीटीवी फुटेज का सहारा
इस संबंध में केजीएमयू के सीएमएस डॉ.एसएस शंखवार ने कहा है कि संस्थान में इस तरह की हरकत बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस मामले की जांच शुरू हो गई है। विभाग में लगे कैमरे से फुटेज निकलवाई जा रही है। अगर कर्मचारी दोषी पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।



अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन