टिकट मिलने के 2 दिन बाद ही अतीक अहमद ने गुर्गों के साथ कॉलेज में की मारपीट

You Are Here
टिकट मिलने के 2 दिन बाद ही अतीक अहमद ने गुर्गों के साथ कॉलेज में की मारपीटटिकट मिलने के 2 दिन बाद ही अतीक अहमद ने गुर्गों के साथ कॉलेज में की मारपीटटिकट मिलने के 2 दिन बाद ही अतीक अहमद ने गुर्गों के साथ कॉलेज में की मारपीट

इलाहाबाद: उत्तर प्रदेश में इलाहाबाद जिले के नैनी में स्थित सैम हिग्गिनबॉटम इंस्‍टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्चर टेक्नोलॉजी एंड साइसेंस में पूर्व सांसद अतीक अहमद और उनके गुर्गों ने अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ मारपीट की। मारपीट करने के साथ-साथ उन्होंने उनके साथ गाली-गलौच भी किया। मारपीट के दौरान उन्होंने एक असिस्‍टेंट टीचर का टैबलेट भी छीन लिया। मामले में नैनी थाने में नामजद तहरीर दी जाने की बात कही जा रही है। जानकारी के अनुसार अतीक अहमद बुधवार को शाम के समय करीब 6 से ज्यादा गाड़ियों में अपने गुर्गों के साथ कॉलेज पहुंचे। इसी दौरान अतीक के साथ कुछ बाइक सवार युवक भी मौजूद थे। आरोप है कि ये सभी सीधे प्रशासनिक भवन गए और वहां निदेशक, प्रशासन और अन्य अधिकारियों से गाली-गलौज करने लगे। वहां पर उन्होंने कर्मचारियों और अधिकारियों के साथ जमकर मारपीट की। इस हमले में जनसंपर्क अधिकारी डॉ. रमाकांत दूबे, सुरक्षा अधिकारी आरके सिंह, सुरक्षा सहायक विजय शंकर शुक्ला, सुधेंदु उपाध्याय और गोविंद प्रजापति आदि को चोटें आई हैं।

FIR वापस लेन का बना रहे थे दवाब
रमाकांत दूबे ने बताया कि कुछ दिनों पहले असिस्‍टेंट टीचर तेजस जैकब ने दो स्‍टूडेंट्स मो. सैफ सिद्दीकी और शाकिब अहमद के खिलाफ नैनी थाने में एफआईआर लिखाई थी। इस बात को लेकर अतीक अहमद और उनके गुर्गे एफआईआर को वापस लेने का दबाव बना रहे थे। जब उन्होंने इस बात को विरोध किया तो अतीक अहमद गुर्गों के साथ डेयरी विभाग गए और वहां तेजस जैकब पर जानलेवा हमला किया। साथ ही उनका टैबलेट छीन लिया। उसी समय वहां पर अफरा-तफरी मच गई।

क्या कहती है पुलिस?
इस मामले में सीओ करछना बृजनंदन राय का कहना है कि अतीक अहमद और उनके गुर्गों की यह पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है। आरोपियों के खिलाफ कई धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। डॉ. रमाकांत की ओर से पूर्व सांसद के अलावा निष्कासित छात्र मो. सैफ सिद्दीकी, दिव्यांशु कुंदन, सिराज और नाजिर समेत 50 से 60 अज्ञात लोगों के खिलाफ तहरीर दी गई है। पुलिस मामले की जांच कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कह रही है।

UP Hindi News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!