सपा से गठबंधन की अटकलों पर बोले राज बब्बर- अपने दम पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेस

  • सपा से गठबंधन की अटकलों पर बोले राज बब्बर- अपने दम पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेस
You Are Here
सपा से गठबंधन की अटकलों पर बोले राज बब्बर- अपने दम पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेससपा से गठबंधन की अटकलों पर बोले राज बब्बर- अपने दम पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेससपा से गठबंधन की अटकलों पर बोले राज बब्बर- अपने दम पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेस

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा सपा और कांग्रेस के गठबंधन को आगामी विधानसभा चुनाव में बड़ी कामयाबी का रास्ता बताए जाने को लेकर अटकलें तेज होने के बीच प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा कि पार्टी राज्य में अपने दम पर चुनाव लड़ेगी और उन्होंने इस तरह की अटकलों को अनुमान पर आधारित बताया। इसके साथ ही बब्बर ने कहा कि उनकी पार्टी के नेतृत्व ने गठजोड़ को लेकर उनसे कोई बात नहीं की है, एेसे में गठबंधन की बातों से पार्टी कार्यकर्त्ता भ्रमित और ‘हतोत्साहित’ होता है।

बब्बर ने साक्षात्कार में अखिलेश के बयान के मद्देनजर सपा से गठबंधन की सम्भावनाआें के बारे में पूछे जाने पर कहा कि गठबंधन के विषय में मेरे पास कोई जानकारी नहीं है और न ही मेरी पार्टी ने मुझसे एेसी कोई संभावना तलाशने को कहा है । ये सब बातें सिर्फ अनुमानों पर आधारित हैं। बहरहाल, इन बातों से हमारा कार्यकर्त्ता हतोत्साहित होता है। उन्होंने दबे लहजे में कहा कि एेसी बातों से हमारे कार्यकर्त्ता के मन में भ्रम पैदा हो रहा है। जैसा अखिलेश जी कहते हैं कि गठबंधन पर फैसला नेता जी (सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव) करेंगे, उसी तरह हम भी इस मामले को पार्टी नेतृत्व पर छोड़ते हैं। फिलहाल हम अपने बलबूते चुनाव लड़ रहे हैं।

मालूम हो कि अखिलेश ने पिछले हफ्ते कहा था कि हालांकि उनकी पार्टी सिर्फ अपने बूते पर बहुमत पा लेने में सक्षम है लेकिन फिर भी अगर कांग्रेस और सपा एक साथ आ जाएं तो उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में इस गठबंधन को कुल 403 में से 300 से ज्यादा सीटें मिलेंगी। अखिलेश इससे पहले भी कई बार एेसे बयान दे चुके हैं। कांग्रेस के चुनाव रणनीतिकार प्रशान्त किशोर द्वारा पिछले महीने कई बार सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश से लम्बी बैठकें किए जाने के बाद सपा और कांग्रेस के गठबंधन की अटकलों ने जोर पकड़ लिया था। हालांकि बाद में सपा मुखिया ने यह कहकर अटकलों पर विराम लगाने की कोशिश की थी कि उनकी पार्टी आगामी चुनाव में किसी भी दल के साथ गठबंधन नहीं करेगी।

UP Political News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !