2019 का करें इंतजार, UP, बंगाल और बिहार की जनता देगी BJP को करारा जवाब: अखिलेश

  • 2019 का करें इंतजार, UP, बंगाल और बिहार की जनता देगी BJP को करारा जवाब: अखिलेश
You Are Here
2019 का करें इंतजार, UP, बंगाल और बिहार की जनता देगी BJP को करारा जवाब: अखिलेश2019 का करें इंतजार, UP, बंगाल और बिहार की जनता देगी BJP को करारा जवाब: अखिलेश2019 का करें इंतजार, UP, बंगाल और बिहार की जनता देगी BJP को करारा जवाब: अखिलेश

लखनऊ: सपा के अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भाजपा की कथनी और करनी में अन्तर का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में यूपी, बंगाल और बिहार की जनता उन्हें सटीक जवाब देगी।

यादव ने पत्रकारों से कहा कि भाजपा कहती कुछ और है और करती कुछ और है। जनता अब इन्हें समझ गई है। धीरे-धीरे इन्हे सबक सिखाएगी। आगामी 27 अगस्त को पटना में आयोजित विपक्षी दलों की रैली में यादव ने शामिल होने की पहले ही घोषणा कर रखी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ‘डिजिटल सीएम’ बताते हुए चुनौती दी कि योगी बताएं कि 100 सालों में कब थानों में जन्माष्टमी नहीं मनाई गई। उनका कहना था कि योगी का यह कहना गलत है कि अखिलेश यादव सरकार में थानों में जन्माष्टमी मनाने की परम्परा बंद कर दी गई थी।

उन्होंने एेलान किया कि सूबे में सपा की सरकार बनने पर हर थानों को त्यौहार मनाने के लिए 5 लाख रुपए दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जन्माष्टमी उनका प्रिय त्यौहार है। उनकी पत्नी ने जन्माष्टमी का व्रत रखा था। बच्चों ने झांकियां सजाई थी और‘डिजिटल मुख्यमंत्री’ कहते हैं कि सपा सरकार में थानों में जन्माष्टमी बंद हो गई थी।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा और उसकी सरकार के लोग विकास की बात क्यों नहीं करते। जन्माष्टमी,नमाज और कांवडियों की बात क्यों शुरु कर देते हैं। लगता है कि भाजपा विकास को राजनीतिक एजेन्डे का हिस्सा ही नहीं बनने देना चाहती। उन्होंने कहा कि बात स्वच्छ भारत अभियान की जा रही है लेकिन सड़कों पर गायें घूम रहीं है। स्मार्ट सिटी बनाने के बजाय ईद और नमाज पर बात की जा रही है। मूल समस्याओं से ध्यान हटाने के भाजपाई प्रयास को जनता नकारेगी। उन्होंने कहा कि नौजवानों की नौकरियां छीन ली गई।

सपा नेता ने कहा कि पार्टी के जिला पंचायत अध्यक्षों और ब्लाक प्रमुखों को सत्ता का दुरुपयोग कर हटाया जा रहा है। औरैया में तो हद कर दी गई। पुलिस ने जैसे जिला पंचायत अध्यक्ष को हटवाने की सुपारी ही ले रखी है। जिला पंचायत सदस्यों को परेशान किया जा रहा है। सपा चुप नहीं बैठेगी। इसके लिए संघर्ष किया जाएगा। 325 सीट पाने के बावजूद सरकार जनता के बीच जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रही है। इसीलिए सत्ता के दुरुपयोग पर भाजपा अमादा है।



UP POLITICAL NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !