प्राइमरी स्कूलों के बाद अब नगर पंचायत कार्यालय पर चढ़ा भगवा रंग, फहराया BJP का झंडा

  • प्राइमरी स्कूलों के बाद अब नगर पंचायत कार्यालय पर चढ़ा भगवा रंग, फहराया BJP का झंडा
You Are Here
प्राइमरी स्कूलों के बाद अब नगर पंचायत कार्यालय पर चढ़ा भगवा रंग, फहराया BJP का झंडाप्राइमरी स्कूलों के बाद अब नगर पंचायत कार्यालय पर चढ़ा भगवा रंग, फहराया BJP का झंडाप्राइमरी स्कूलों के बाद अब नगर पंचायत कार्यालय पर चढ़ा भगवा रंग, फहराया BJP का झंडा

लखीमपुरी खीरीः रंग हमेशा से ही उत्तर प्रदेश की राजनीति में महत्वपूर्ण रहे हैं। मायावती के नेतृत्व वाली बहुजन समाज पार्टी के शासनकाल में यह रंग नीला था जबकि समाजवादी रंग लाल और हरा था। और अब हर तरफ भगवा है। यह रंग योगी को कितना पसंद है, यह इससे भी साफ होता है कि जिन कुर्सियों पर वह बैठते हैं, वह नारंगी रंग से ढंकी होती हैं। उनके कार्यालय में सोफा, कुर्सी, सभी पर यही रंग चढ़ा हुआ है। इसी क्रम में अब यूपी के नगर पंचायत और नगर पालिका कार्यालयों को ही भगवा रंग में रंगा जाने लगा है।

जानकारी के अनुसार लखीमपुर खीरी जिले में खीरी नगर पंचायत को न केवल भगवा रंग में रंगा गया बल्कि यहां बीजेपी का झंडा भी दफ्तर पर फहरा दिया गया। इस कदम पर विपक्ष सवाल उठा रहा है।

इस पर बीजेपी के खीरी सीट के प्रभारी अनुराग मिश्रा कहते हैं कि भगवा रंग तो उगते हुए सूरज का भी होता है। भारतीय संस्कृति में रचा बसा है कार्यालय अगर भगवा हो गया तो आपत्ति कैसी है। वहीं कार्यालय पर बीजेपी का झंडा फहराने की जानकारी न होने की बात कही।

वहीं इस मामले में समाजवादी पार्टी के एमएलसी शशांक यादव इस भगवाकरण पर चुटकी लेते हुए कहते हैं कि बीजेपी रंग बदलने में पहले से माहिर है। सरकारी कार्यालयों को भगवा रंग में रंगवाकर निकाय चुनाव में अपनी हार की खीझ मिटाने को जो रंग में रंग जाए कम है। एमएलसी का कहना है कि कि लोकसभा में 47 फीसदी, विधानसभा में 39 फीसदी पाने वाली बीजेपी निकाय चुनाव में 27 फीसदी वोट पर आ गई। 

उल्लेखनीय है कि पीलीभीत जिले से खबर आई थी कि बेसिक शिक्षा अधिकारी ने सरकार को खुश करने के लिए 100 से ज्यादा प्राइमरी स्कूलों को भगवा रंग में रंगवा दिया। 



UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन