Subscribe Now!

15 दिन में गौशाला में हुई 28 गायों की मौत, संचालकों ने सरकार को ठहराया दोषी

  • 15 दिन में गौशाला में हुई 28 गायों की मौत, संचालकों ने सरकार को ठहराया दोषी
You Are Here
15 दिन में गौशाला में हुई 28 गायों की मौत, संचालकों ने सरकार को ठहराया दोषी15 दिन में गौशाला में हुई 28 गायों की मौत, संचालकों ने सरकार को ठहराया दोषी15 दिन में गौशाला में हुई 28 गायों की मौत, संचालकों ने सरकार को ठहराया दोषी

फैजाबादः हर जिले में गौशाला की बात करने वाले सीएम योगी के प्रदेश में ही 15 दिनों में 28 गायों की मौत का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है उक्त गौशाले में लगभग 400 गौवंशी मौजूद थी, लेकिन चारे के संकट के चलते अब गौशाला ही उनकी मौत का कारण बनता जा रहा है। संचालकों का कहना है कि सरकार ने कई बार लिखित पत्रों के बावजूद आर्थिक मदद नहीं की।

चारे के अभाव में 28 गायों ने तोड़ा दम
जानकारी के मुताबिक पिछले एक पखवारे में गौशाला की 28 मवेशी चारे के अभाव में मौत के गाल में समा गए हैं और गौशाला संचालकों ने चुपचाप गौशाला के ही जमीन में उन्हें दफना दिया है।

संचालकों ने सरकार को ठहराया दोषी
इतना ही नहीं संचालकों ने इसके लिए जिला प्रशासन और सरकार को दोषी ठहराया हैं। उनका कहना है कि इस बारे में पत्र लिखकर चारा और भूसा उपलब्ध कराने के लिए गुहार लगाई है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

नहीं मिली आर्थिक सहायता
दरअसल जिले के छुट्टा जानवरों के संरक्षण के लिए कुछ लोगों ने आपस में मिलकर एक गौशाला की व्यवस्था की थी। बताते हैं कुछ दिन तो सब कुछ ठीक-ठाक चला, लेकिन गौशाला संचालन में कुछ लोगों द्वारा आर्थिक सहयोग बंद कर देने से गौशाला में चारा का संकट गहरा गया।

अब होगी जांच
हालांकि गौशाला संचालकों ने स्थानीय लोगों की मदद से कुछ दिन तक पशुओं के लिए चारा और भूसा खाने की व्यवस्था की, लेकिन पिछले 15 दिनों में 28 गायों की मौत के बाद मामला गंभीर हो गया है, जिसको देखते हुए अब जिलाधिकारी ने जिला पशु चिकित्सा अधिकारी को जांच के निर्देश भी दे दिए हैं।




अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन