‘बाबरी मस्जिद के स्थान पर राम मंदिर का निर्माण जरूरी’

  • ‘बाबरी मस्जिद के स्थान पर राम मंदिर का निर्माण जरूरी’
You Are Here
‘बाबरी मस्जिद के स्थान पर राम मंदिर का निर्माण जरूरी’‘बाबरी मस्जिद के स्थान पर राम मंदिर का निर्माण जरूरी’‘बाबरी मस्जिद के स्थान पर राम मंदिर का निर्माण जरूरी’

लखनऊ: उत्तर प्रदेश शिया सैंट्रल वक्फ बोर्ड ने देश में एकता, मुसलमानों की सुरक्षा और भाईचारा बनाए रखने के लिए अयोध्या में विवादित बाबरी मस्जिद के स्थान पर राम मंदिर के निर्माण को जरूरी बताया है।

बोर्ड के 4 बार से लगातार अध्यक्ष वसीम रिजवी ने बाबरी मस्जिद पर अपने बोर्ड के मालिकाना हक का दावा भी ठोका। उनका कहना था कि इस मस्जिद को बाबर की फौज के शिया कमांडर मीर बाकी ने बनवाया था इसलिए इस पर पहला हक शिया मुसलमानों का बनता है लेकिन देश में एकता, मुसलमानों की सुरक्षा और भाईचारा बनाए रखने के लिए शिया सैंट्रल वक्फ बोर्ड चाहता है कि मस्जिद के स्थान पर राम मंदिर का निर्माण हो।

एक सवाल के जवाब में रिजवी ने कहा कि बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी की सरकारों में उनका मुंह राजनीतिक कारणों से बंद था मगर अब उनको बोलने की आजादी है इसलिए उन्होंने मुसलमानों की सुरक्षा, भाईचारा और देश में एकता के लिए बाबरी मस्जिद के स्थान पर राम मंदिर के निर्माण की बात कही है।

उन्होंने कहा कि यदि उच्चतम न्यायालय का फैसला सुन्नी वक्फ बोर्ड के पक्ष में आ भी जाए तो वहां मस्जिद का निर्माण संभव नहीं है। उन्होंने अपनी बात को स्पष्ट करते हुए कहा कि न्यायालय के न चाहते हुए भी कोई बाबरी मस्जिद को टूटने से बचा नहीं पाया।

रिजवी ने स्वीकार किया कि इस्लाम के कानूनों के अनुसार कोई व्यक्ति या संस्था मस्जिद का मालिक नहीं हो सकता। उन्होंने स्पष्ट किया मस्जिद का मालिक तो अल्लाह ही होता है लेकिन जब मस्जिद फसाद का कारण बन जाए तो उसको छोड़ देना ही ठीक होता है।



UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!