रेल में सुधार का सबसे ज्यादा लाभ उत्तर प्रदेश को होगा: सुरेश प्रभु

  • रेल में सुधार का सबसे ज्यादा लाभ उत्तर प्रदेश को होगा: सुरेश प्रभु
You Are Here
रेल में सुधार का सबसे ज्यादा लाभ उत्तर प्रदेश को होगा: सुरेश प्रभुरेल में सुधार का सबसे ज्यादा लाभ उत्तर प्रदेश को होगा: सुरेश प्रभुरेल में सुधार का सबसे ज्यादा लाभ उत्तर प्रदेश को होगा: सुरेश प्रभु

लखनऊ: रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने आज कहा कि रेल में सुधार का सबसे अधिक फायदा उत्तर प्रदेश को होगा क्योंकि इसी प्रदेश ने पार्टी के सबसे ज्यादा सांसद चुनकर भेजे हैं। प्रभु ने यहां गोमतीनगर रेलवे स्टेशन पर कई योजनाआें के लोकार्पण एवं शिलान्यास के मौके पर कहा, ‘‘रेल में सुधार का सबसे ज्यादा लाभ उत्तर प्रदेश को होगा। उत्तर प्रदेश ने सबसे ज्यादा सांसद (भाजपा के) भेजे हैं इसलिए यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम प्रदेश को ज्यादा दें।’’

प्रभु ने केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के साथ गोमतीनगर टर्मिनल के पहले चरण के कार्यों का लोकार्पण किया। साथ ही टर्मिनल के दूसरे चरण के कार्यो का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि गोमतीनगर रेलवे स्टेशन का डिजाइन इस तरह तैयार किया गया है, जैसा हवाई अड्डों के टर्मिनल का होता है। इसे विश्वस्तरीय रेलवे स्टेशन के रूप में विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के लोग देश के विभिन्न राज्यों में रहते हैं और हमारा प्रयास होगा कि यात्रियों को भरपूर सुविधा मिले। पिछले दो वर्षों में उत्तर प्रदेश के लिए 43 हजार 453 करोड़ रुपये की लागत की परियोजनाएं मंजूर की गयी।

प्रभु ने बताया कि यात्रियों की शिकायत के लिए नए प्रबंध किए गए हैं। ई-केटरिंग के द्वारा अवधी खाना भी यात्रियों को अपनी सीट पर मिलेगा। आम आदमी की सुरक्षा के लिए एक सेटी फंड भी बन रहा है। रेल मंत्री ने कहा कि लंबे समय से रेलवे की आेर ध्यान नहीं दिया गया। यात्रियों की संख्या तो बढ़ी लेकिन साधन नहीं बढ़े। रेलवे में निवेश भी अपेक्षानुरूप नहीं हुआ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रेलवे को बड़े स्तर पर महत्व दिया। उसी का नतीजा है कि अब रेलवे में बड़े पैमाने निवेश हो रहा है। प्रभु ने बताया कि रेल को गति देने के लिए एक संयुक्त उपक्रम कंपनी का गठन किया जा रहा है। इस प्रस्ताव को 16 राज्यों ने मान लिया है। इससे रेल नेटवर्क के विकास में तेजी आएगी। देश में 400 रेलवे स्टेशनों को और अच्छा बनाने की शुरुआत भी कर दी गई है।

UP News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!