सीमा सिंह का दावा-यूपी की सत्ता में दोबारा नहीं आएगी समाजवादी पार्टी

  • सीमा सिंह का दावा-यूपी की सत्ता में दोबारा नहीं आएगी समाजवादी पार्टी
You Are Here
सीमा सिंह का दावा-यूपी की सत्ता में दोबारा नहीं आएगी समाजवादी पार्टीसीमा सिंह का दावा-यूपी की सत्ता में दोबारा नहीं आएगी समाजवादी पार्टीसीमा सिंह का दावा-यूपी की सत्ता में दोबारा नहीं आएगी समाजवादी पार्टी

लखनऊ: बेटी सारा सिंह के हत्यारे अमनमणि त्रिपाठी को टिकट दिए जाने को लेकर एक बार फिर उनकी मां सीमा सिंह ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधा है। सीमा सिंह ने कहा है कि वह बेटी के हत्यारे का टिकट काटने के लिए गुहार लगा रही हैं, लेकिन सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह पता नहीं किसके दवाब में उसका टिकट नहीं काट रहे हैं। जबकि वो हत्या का आरोपी है और सीबीआई की हिरासत में है। सीमा सिंह ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर मुलायम सिंह ने अमनमणि का टिकट नहीं काटा तो आगामी विधानसभा चुनाव में प्रदेश की जनता उन्हें सबक सिखाएगी। 

सत्ता में नहीं आएगी सपा
इस दौरान सीमा सिंह ने कहा कि चुनाव में मायावती या भाजपा की सरकार बन सकती है, लेकिन सपा वापस सत्‍ता में नहीं आ पाएगी। 

अखिलेश न निभाएं रिश्तेदारी 
सीमा सिंह ने कहा कि मुलायम सिंह के निर्देशानुसार अखिलेश यादव को काम करना पड़ रहा है, वो गलत है। उन्होंने कहा कि अगर अखिलेश का बस चलता तो वो कबका अमनमणि का टिकट काट देते, लेकिन एक मुख्यमंत्री होने के नाते उन्हें रिश्तेदारी नहीं निभानी चाहिए। उन्हें पूरी हैसियत से अमनमणि त्रिपाठी का टिकट काटना चाहिए। 

अमनमणि को डासना जेल में वीआईपी ट्रीटमेंट दे रही सपा सरकार
सीमा सिंह ने सीधे तौर पर आरोप लगाया कि अखिलेश सरकार अमनमणि को गाजियाबाद के डासना जेल में वीआईपी ट्रीटमेंट दे रही है। सीमा सिंह ने दावा किया कि मधुमिता हत्याकांड के आरोपी अमरमणि त्रिपाठी और उनकी पत्नी मधुमणि को जेल में वीआईपी सुविधा मिलती रही है। 

क्या था मामला?
बीते 9 जुलाई को अमनमणि त्रिपाठी अपनी पत्नी सारा सिंह के साथ कार में सवार होकर घर से दिल्ली के लिए रवाना हुए थे। फिरोजाबाद बाईपास के पास पहुंचने पर अमनमणि त्रिपाठी की कार पलट गई जिसमें सारा सिंह की मौत हो गई। सबसे हैरानी वाली बात तो यह थी कि जिस दुर्घटना में सारा सिंह की मौत हो गई उसमें अमनमणि त्रिपाठी को खरोंच तक नहीं आई। सारा सिंह की मां ने पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी पर जेल में हत्या की साजिश रचने और दामाद अमनमणि त्रिपाठी के खिलाफ हत्या करने का आरोप लगाया था। 

UP News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You