Subscribe Now!

हरिद्वार में टस्कर ने ली एक और की जान,सीने पर पैर रखकर मार डाला

  • हरिद्वार में टस्कर ने ली एक और की जान,सीने पर पैर रखकर मार डाला
You Are Here
हरिद्वार में टस्कर ने ली एक और की जान,सीने पर पैर रखकर मार डालाहरिद्वार में टस्कर ने ली एक और की जान,सीने पर पैर रखकर मार डालाहरिद्वार में टस्कर ने ली एक और की जान,सीने पर पैर रखकर मार डाला

देहरादून/ब्यूरो। हरिद्वार में टस्कर ने एक और व्यक्ति को मौत के घाट उतार दिया। भेल में देर शाम को टस्कर ने सिडकुल फैक्ट्री से लौट रहे एक व्यक्ति के सीने पर पैर रखकर मार डाला। सप्ताह भर के भीतर टस्कर ने दो लोगों को मौत के घाट उतार दिया है। टस्कर के भेल एरिया में बढ़ते हमले से हरिद्वार वन प्रभाग और राजाजी टाइगर रिजर्व के माथे पर बल पड़ गया है। वहीं वन प्रभाग हाथी को आबादी की ओर आने से रोकने की योजना बनाने में जुट गया है।

 

प्राप्त जानकारी के अनुसार अजीत सिंह (43) पुत्र रामेश्वर सिंह मूल निवासी देवरिया उत्तरप्रदेश मंगलवार शाम को सिडकुल स्थित फैक्ट्री से काम करके घर लौट रहा था। तभी भेल के फाउंड्री गेट के करीब जंगल से निकले टस्कर ने अजीत को सूंड में लपेट लिया और जमीन पर पटक कर मार डाला। सूचना पर हरिद्वार वन प्रभाग के उप प्रभागीय अधिकारी नंदा बल्लभ शर्मा और सुरक्षा दस्ता मौके पर पहुंचा।

 

टस्कर रोकने को खोदेंगे खाई
टिबड़ी से लेकर भेल के जिन इलाकों में टस्कर की मूवमेंट अधिक हो रही है उस जगह को चिन्हित किया जा रहा है। जंगल से आबादी की ओर आने वाले रास्तों में अब खाई खोदने का काम किया जा रहा है, ताकि हाथी आबादी की ओर रुख न कर सकें। 
 

अब होगी प्रभाग और राजाजी की संयुक्त गश्त
हरिद्वार वन प्रभाग और राजाजी टाइगर रिजर्व की टीम ने टस्कर के हमले को रोकने के लिए संयुक्त गश्त का निर्णय लिया है। उप प्रभागीय वनाधिकारी नंदा बल्लभ शर्मा ने बताया कि संवेदनशील स्थानों पर खास निगाह रहेगी। शाम से रात तक खतरे वाले इलाके में टीम गश्त करेगी।




अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन